Punjab विधानसभा में CAA के खिलाफ प्रस्‍ताव पारित

चंडीगढ़, Nit:

 पंजाब विधानसभा ने एक प्रस्‍ताव पारित करके कहा है कि केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में बनाया गया नागरिकता संशोधन कानून CAA असंवैधानिक है।
नागरिकता संशोधन कानून CAA के खिलाफ यह प्रस्‍ताव पंजाब सरकार लेकर आई थी।
बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून CAA को लेकर देश में कुछ जगह विरोध प्रदर्शन चल रहे हैं। पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने भी इस कानून का विरोध किया है।
पंजाब में सत्‍तारूढ़ कांग्रेस पार्टी ने विधानसभा में CAA के खिलाफ प्रस्‍ताव रखा। कांग्रेस ने मांग की कि इस कानून को खत्‍म किया जाए। राज्‍य के मंत्री के ब्रह्म मोहिंद्रा ने विधानसभा के दो दिवसीय विशेष सत्र के दौरान इस सीएए के खिलाफ प्रस्‍ताव पेश किया।
मोहिंद्रा ने कहा, ‘संसद द्वारा बनाए गए नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ देशभर में गुस्‍सा है और इसका विरोध हुआ है। पंजाब में भी इस कानून के खिलाफ प्रदर्शन हुआ है जो शांतिपूर्ण रहा।’
अमरिंदर सिंह ने CAA का क‍िया व‍िरोध
विधानसभा ने पंजाब सरकार के इस प्रस्‍ताव को पारित कर दिया। बता दें कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नागरिकता संशोधन कानून को लेकर कहा है कि भारत का धर्मनिरपेक्षता का तानाबाना हमेशा से ही मजबूत रहा है। इसे अलग-थलग करने का प्रयास किसी ने भी किया तो उसका इस देश की जनता के साथ-साथ कांग्रेस के द्वारा भी विरोध किया जाएगा।
कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा, ‘बीजेपी और इसके गठबंधन सहयोगी परिणामों के बारे में सोचे बिना इस ताने-बाने को तबाह करने में जुटे हुए हैं। एनडीए और उसके साथी भारत की विविधता की जड़ों पर हमला कर रहे हैं जहां पर उसकी नींव रखी हुई है।’
-एजेंसियां

Reactions