Farrukhabad और Kasganj मे कश्मीरियों को पकड़ने के लिए कई एजेंसियां जाँच में जुटी

अब्दुल मुईद खान, फर्रुखाबाद (कमालगंज) Nit. : 
बीते दिन संदिग्ध रूप से पकड़े गये चार कश्मीरियों को लेकर मामला गर्म हो गया है। स्थानीय जाँच एजेंसियों के साथ ही कई और जाँच एजेंसी कश्मीरियों के मामले में सच जानने में जुटी है।

पुलिस नें संदिग्ध रूप से घूम रहे  चार कश्मीरियों को इंटेलीजेंस की सूचना पर दबोच लिया था। उन्होंने पुलिस को अपने नाम रियाज व मो० फार्रुख पुत्र बरफुद्दीन, शौकत हुसैन पुत्र फजल हुसैन, गुलाम रब्बानी पुत्र शखी मोहम्मद  निवासी महोते थाना चुरनकोट जिला पुंछ जम्मू कश्मीर को दबोच लिया था।
पकड़े गये कश्मीरियों के पास पुलिस को आधार कार्ड, पासपोर्ट, चंदा करने की रसीदें आदि मिली। आरोपियों नें पुलिस को बताया कि उनका एक मदरसा जामिया ज्याउल कुरान बन रहा है। जिसके लिए वह लोग चंदा एकत्रित कर रहे है। इससे पूर्व वह अलीगढ़, कासगंज, गंजडूडबारा, बदायूं व फर्रुखाबाद से चंदा एकत्रित कर चुके है। पुलिस पड़ताल में जुटी है। संदिग्ध कश्मीरियों के पकड़े जाने की खबर लगते ही आईबी और आर्मी इंटेलीजेंस ने भी जाँच शुरू कर दी है।

कश्मीरियों के मामले में राजनीति भी हुई गर्म

पकड़े गये कश्मीरियों की पैरवी करने ले लिए कांग्रेस जिलाध्यक्ष विजय कटियार पंहुचे। उन्होंने पुलिस से वार्ता की। इसके बाद उन्होंने सुरतकोट डीवाईएसपी जावेद चौधरी से फोन पर वार्ता के साथ ही पुंछ के थानाध्यक्ष अनीश कुमार से वार्ता कर कमालगंज थानाध्यक्ष की बात करायी। जिलाध्यक्ष विजय कटियार नें बताया कि जम्मू कश्मीर के प्रदेश सचिव शहनबाज चौधरी के निर्देश पर वह आयें है। कुछ देर के बाद भाजपा विधायक नागेन्द्र सिंह राठौर भी थाने आ गये। उन्होंने कहा कि प्रकरण की गंभीरता से जाँच कर कार्यवाही होंनी चाहिए।
Reactions