Uttar Pradesh : तबलीगी जमात का हिस्‍सा बने लोगों की 18 जिलों में तलाश

लखनऊ, Nit. :
दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के धार्मिक कार्यक्रम में शामिल लोगों की कोरोना से मौत के बाद हड़कंप मचा हुआ है।
इस बीच यूपी के डीजीपी ने 18 जिलों के पुलिस अधिकारियों को इस कार्यक्रम में पहुंचे लोगों की तलाश करने का आदेश दिया है। बता दें कि निजामुद्दीन में हुए इस धार्मिक आयोजन में शामिल 10 लोगों की कोरोना से मौत हुई है, जबकि करीब 200 लोग दिल्ली के अस्पतालों में भर्ती हैं।
यूपी के डीजीपी कार्यालय की तरफ से जारी आदेश में कहा गया है, ‘तबलीगी जमात के विदेशी प्रचारकों के हजरत निजामुद्दीन में हुए कार्यक्रम में यूपी के जिलों से लोग शामिल हुए थे। सूची में शामिल 18 जिलों के उन व्यक्तियों के कोरोना वायरस से प्रभावित होने के संबंध में उनका प्राथमिकता के साथ कोविड-19 टेस्ट और संक्रमित व्यक्तियों को तत्काल अस्पताल में भर्ती कराकर इलाज मुहैया कराया जाए।’
तबलीगी के आयोजन में इन जिलों से शामिल हुए लोग
तबलीगी जमात के कार्यक्रम में यूपी के गाजियाबाद, मेरठ, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, शामली, हापुड़, बिजनौर, बागपत, वाराणसी, भदोही, मथुरा, आगरा, सीतापुर, बाराबंकी, प्रयागराज, बहराइच, गोंडा और बलरामपुर जिलों से लोगों के शामिल होने की बात सामने आ रही है। यूपी डीजीपी की तरफ से आयोजन में शामिल यूपी के लोगों की तलाश और निगरानी का आदेश दिया गया है।

2000 लोग हुए शामिल, 20 विदेशी नागरिकों को कोरोना
देश की राजधानी दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में मरकज तबलीगी जमात मुख्यालय में 18 मार्च को एक धार्मिक कार्यक्रम आयोजित किया गया था। बताया जा रहा है कि इसमें तकरीबन 2000 लोगों ने हिस्सा लिया था, जिसमें विदेशी लोग भी थे। अब पता चला है कि इनमें से करीब 300 लोगों को कोरोना हो सकता है, जिन्हें दिल्ली के लोकनायक अस्पताल में एहतियातन भर्ती किया गया है। सरकार ने इस इलाके में रहने वाले लोगों को भी दिल्ली के अलग-अलग अस्पतालों में जांच के लिए भर्ती कराया है। सोमवार को दिल्ली में सबसे ज्यादा 25 कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए, जिनमें से 19 का संबंध इसी कार्यक्रम से था।
-एजेंसियां
Reactions