Delhi दंगों के आरोपी आप के पार्षद ताहिर हुसैन व जामिया, जेएनयू के उमर ख़ालिद, मीरान हैदर पर लगा UAPA


नई द‍िल्ली, Nit. :

फरवरी में दिल्ली में हुए दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस ने आम आदमी पार्टी से निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन पर ग़ैरक़ानूनी गतिविधियाँ (रोकथाम) अधिनियम (Unlawful Activities (Prevention) Act) यानी UAPA लगा दिया है। ताहिर हुसैन पर इंटेलीजेंस ब्यूरो के अफ़सर अंकित शर्मा की हत्या करने का आरोप है। इससे पहले पुलिस ने ताहिर हुसैन के ख़िलाफ़ धारा 302 (हत्या), आगजनी और हिंसा के मामले में मुक़दमा दर्ज किया था। मुक़दमा दर्ज होने के बाद पार्टी ने ताहिर को निलंबित कर दिया था।

अंकित शर्मा का नाले में शव मिलने के बाद उसके परिजनों का कहना था कि ताहिर हुसैन के घर से लोगों पर पत्थर और पेट्रोल बम फेंके गये और ताहिर के समर्थकों ने ही अंकित की हत्या की है। दूसरी ओर ताहिर ने इन आरोपों को ग़लत बताया था। ताहिर ने कहा था कि वह पूरी तरह निर्दोष है और कपिल मिश्रा के भड़काऊ बयान के बाद दिल्ली में हालात ख़राब हुए थे।

ताहिर ने कहा था कि भीड़ उनके ऑफ़िस का दरवाज़ा तोड़कर अंदर घुस गई थी और छत पर चढ़ गई थी और इस दौरान उन्होंने पुलिस से कई बार मदद मांगी थी। ताहिर ने कहा था कि वह नार्को टेस्ट के लिये तैयार हैं और किसी भी अन्य तरह की भी जांच का सामना करेंगे।


उमर ख़ालिद, मीरान हैदर आद‍ि पर भी लगा  UAPA

इसके अलावा जेएनयू के टुकड़े टुकड़े गैंग के लीडर उमर ख़ालिद पर भी दिल्ली में हुए दंगों को लेकर यूएपीए लगा दिया गया है। उमर के अलावा दिल्ली के भजनपुरा के स्थानीय निवासी दानिश पर भी UAPA लगाया गया है।’

जवाहर लाल यूनिवर्सिटी (जेएनयू) के छात्र नेता उमर ख़ालिद पर दिल्ली में हुए दंगों को लेकर ग़ैर क़ानूनी गतिविधि (निरोधक) अधिनियम (UAPA) लगा दिया गया है। उमर के अलावा भजनपुरा के स्थानीय निवासी दानिश पर भी यूएपीए लगाया गया है।

इससे पहले जामिया के छात्र और राष्ट्रीय जनता दल की युवा शाखा के नेता मीरान हैदर, जामिया को-ऑर्डिनेशन कमेटी की मीडिया को-ऑर्डिनेटर सफूरा ज़रगर को दिल्ली दंगों की साज़िश से जुड़े होने के आरोप में गिरफ़्तार किया जा चुका है। मीरान और सफूरा न्यायिक हिरासत में हैं। मीरान हैदर के सलाहकार अकरम ख़ान ने कहा है कि पुलिस ने मीरान व अन्य लोग जिनके नाम एफ़आईआर में दर्ज हैं, उन सभी के ख़िलाफ़ UAPA लगा दिया है।
– एजेंसी

Reactions