KD मेडिकल कॉलेज के छात्रों को दी जा रही online शिक्षा


मथुरा, Nit. :

KD मेडिकल कॉलेज प्रबंधन ने देशभर में कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन की स्थिति को देखते हुए अपने-अपने घरों में रह रहे MBBS के छात्र-छात्राओं को जूम क्लाउड मीटिंग ऐप और यू-ट्यूब के माध्यम से ऑनलाइन शिक्षा देने की व्यवस्थाएं की हैं। कॉलेज प्रबंधन की इस व्यवस्था का छात्र-छात्राएं जहां लाभ उठा रहे हैं वहीं अभिभावक इसके लिए प्राध्यापकों का आभार मान रहे हैं।

लॉकडाउन में KD मेडिकल कॉलेज के प्राध्यापकों ने MBBS के छात्र-छात्राओं के लिए जूम क्लाउड मीटिंग ऐप के माध्यम से ऑनलाइन कक्षाएं शुरू की हैं। कॉलेज के प्राचार्य और डीन डॉ. रामकुमार अशोका ने बताया कि ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन इस तरह से किया जा रहा है, जिसमें छात्र-छात्राएं कक्षाओं के दौरान अपने प्रश्न शिक्षकों से सीधे पूछ सकते हैं और चर्चा भी कर सकते हैं।

डॉ. अशोका का कहना है कि पिछले सप्ताह से कक्षाएं बिना किसी परेशानी के सफलतापूर्वक चल रही हैं तथा छात्र-छात्राओं को होम असाइनमेंट भी दिया जा रहा है। इसको लेकर छात्र-छात्राओं में उत्साह भी है और उनकी उपस्थिति भी 90% से ऊपर है। डॉ. अशोका का कहना है कि डॉ. शम्भूनाथ बरोलिया, डॉ. शालिनी गांधी, डॉ. संदीप कुमार शर्मा, डॉ. जीतेन्द्र, डॉ. सत्यनाथ रेड्डी, डॉ. शिवी, डॉ. राहुल गोयल, डॉ. ए. बी. मिश्रा आदि नियमित रूप से कक्षाएं ले रहे हैं।

प्राचार्य डॉ. अशोका का कहना है कि जब तक स्थितियां सामान्य नहीं हो जातीं तब तक छात्र-छात्राओं को ऑनलाइन कक्षाओं की सुविधा मुहैया कराई जाती रहेगी।

RK एजुकेशन हब के अध्यक्ष डॉ. रामकिशोर अग्रवाल का कहना है कि शिक्षा किसी व्यक्ति और समाज के विकास के लिए बेहद जरूरी है। भारत सहित दुनिया भर में कोरोना संक्रमण ने महामारी का रूप ले लिया है। ऐसे समय में सरकार का लॉकडाउन का फैसला स्वागत योग्य कदम है। डॉ. अग्रवाल का कहना है कि इस संक्रमणकाल में छात्र-छात्राओं के पठन-पाठन को सुचारु रखने के लिए ही KD मेडिकल कॉलेज में ऑनलाइन कक्षाएं प्रारम्भ की गई हैं।

चेयरमैन मनोज अग्रवाल का कहना है कि MBBS की पढ़ाई काफी कठिन होती है। छात्र-छात्राओं के लिए हर दिन महत्वपूर्ण होता है, इसी बात को ध्यान में रखते हुए KD मेडिकल काॅलेज ने छात्र-छात्राओं को जूम क्लाउड मीटिंग ऐप के माध्यम से ऑनलाइन शिक्षा देने की व्यवस्था की है। श्री अग्रवाल ने छात्र-छात्राओं का आह्वान किया कि वे ऑनलाइन कक्षाओं का अधिकाधिक लाभ उठाएं ताकि समय का सही सदुपयोग हो सके।

Reactions