Lockdown Murder: अब बुलंदशहर में दो साधुओं की हत्‍या, एक व्‍यक्‍ति गिरफ्तार

बुलंदशहर, Nit. :
अब उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले में दो साधुओं की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई है। घटना के बाद से इलाके के लोगों में रोष फैल गया है। इधर मामला बढ़ने से रोकने के लिए इलाके में भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया है।
इससे पहले महाराष्ट्र के पालघर में बीते हफ्ते दो साधुओं की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। इस मामले ने पूरे देश में हलचल मचा दी थी।
घटना अनूपशहर कोतवाली के गांव पगोना की है। यहां स्थित शिव मंदिर में पिछले करीब 10 वर्षों से साधु जगदीश (55 वर्ष) और शेर सिंह (35 वर्ष) रहते थे। सोमवार देर रात दोनों साधुओं की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। मंगलवार की सुबह मंदिर पहुंचे लोगों ने साधुओं के शव देखकर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों का पंचनामा करके पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। इधर सूचना फैलते ही मौके पर दर्जनों लोग जमा हो गए। लोगों ने साधुओं के हत्या का विरोध किया। लोगों का गुस्सा देखकर मौके पर पुलिस फोर्स तैनात की गई।
एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि फिलहाल अभी बहुत कुछ नहीं कहा जा सकता है। दो दिन पहले एक नशेड़ी राजू ने बाबा का चिमटा चुरा लिया था। इस बात को लेकर बाबा ने उसे फटकार लगाई थी। राजू इस बात को लेकर बाबा से चिढ़ गया था। पुलिस का आशंका है कि सोमवार देर रात वह तलवार लेकर मंदिर में पहुंचा और साधुओं की हत्या कर दी। गांव के कुछ लोगों ने राजू को तलवार लेकर गांव के बाहर जाते हुए देखा था। एसएसपी ने बताया कि कथित हमलावर राजू घटना स्थल से लगभग दो किलोमीटर नग्न अवस्था में पुलिस को मिला है। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। राजू को जिस समय गिरफ्तार किया गया, वह भांग के नशे में था।

सीएम ने घटना का लिया संज्ञान
साधुओं की हत्या की घटना को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान में लिया है। उन्होंने डीएम और एसएसपी को मौके पर जाकर मामले की जांच करके विस्तृत रिपोर्ट देने का आदेश दिया है। सीएम ने कहा है कि दोषियों की तत्काल गिरफ्तार करके उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए।

पालघर में दो साधुओं की पीट-पीटकर हत्या की गई थी हत्या
गौरतलब है कि बीते 17 अप्रैल को महाराष्ट्र के पालघर में दो साधुओं और उनके एक ड्राइवर की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले को लेकर पूरे देश में राजनीति शुरू हो गई थी। लोगों ने साधुओं की हत्या को लेकर राज्य सरकार पर सवाल उठाए थे।
-एजेंसियां
Reactions