केंद्र ने जारी की एडवाइजरी इम्युनिटी बढ़ाने के लिए खाए अंडे और चिकन, poultry industry को एक माह में 13000 करोड़ का नुकसान

पंजाब, Nit. : 
कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान अफवाहों के कारण बुरी तरह से प्रभावित हुए देश के पोल्ट्री इंडस्ट्री को बचाने के लिए केंद्र सरकार ने एडवाइजरी जारी की है। इसमें सभी सूचा सरकार को कहा गया है कि वह अपने-अपने तौर पर लोगों में प्रचारित करें कि इसके प्रोडक्ट अंडे तथा चिकन पर कोरोना वायरस का कोई प्रभाव नहीं पड़ता बल्कि यह इंसान को इम्यूनिटी बढ़ाते हैं। केंद्रीय मत्स्य, पशुपालन एवं डेयरी मंत्रालय के संयुक्त सचिव डा० ओपी चौधरी ने एडवाइजरी जारी करते हुए कहा है कि कोरोना संक्रमण के एक महीने के दौर में देश के पोल्ट्री इंडस्ट्री का 13000 करोड़ का नुकसान हुआ है। हालात यह हो गया है कि यह उद्योग बुरी तरह से प्रभावित हुआ है।

इस संदर्भ में जारी विभिन्न रिपोर्टर्स और वायरल वीडियो का हवाला देते हुए डॉ० चौधरी ने कहा है कि वर्तमान हालात में लोगों को बेहतर इम्यूनिटी की जरूरत होती है और उसे चिकन तथा अंडे से पूरा किया जा सकता है। उन्होंने सभी राज्यों के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी, प्रिंसिपल सेक्रेटरी तथा सेक्रेटरी एनिमल हसबेंडरी को कहा है कि वह अपने यहां टीवी रेडियो अखबार आदि के जरिए लोगों में प्रचारित प्रसारित करें कि यह दोनों उत्पाद इम्यूनिटी बढ़ाने के बेहतर साधन हैं। इससे जहां लोग कोरोना वायरस जैसी बीमारी से लड़ने में सक्षम हो सकेंगे। अफवाहों के चक्कर में लोगों ने चिकन और अंडे खाने छोड़ दिए हैं। हालात यह हो गए हैं कि सारा कारोबार खत्म हो गया है। पिछले दिनों अमृतसर समेत पंजाब के पोल्ट्री कारोबारियों ने भी ऐसा ही स्पष्टीकरण दिया था लेकिन लोगों पर इसका असर नहीं पड़ा।
Reactions