Delhi border Open: दिल्ली ने खोला लेकिन नोएडा बॉर्डर अब भी सील, लंबा जाम लगा

नोएडा, Nit. :
दिल्ली सरकार ने हफ्तेभर से बंद बॉर्डर खोल दिए हैं। यूपी-हरियाणा से दिल्ली जाने वाले लोग आसानी से दिल्ली जा रहे हैं। दिल्ली से नोएडा और गाजियाबाद आने वालों को मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। नोएडा प्रशासन ने यहां दिल्ली से आने वालों के लिए बॉर्डर अब भी बंद कर रखा है, जिसके कारण कई किलोमीटर लंबा जाम ल गया है। बिना पास चेकिंग के किसी को एंट्री नहीं मिलने से गाड़ियों की लंबी लाइन लगी हुई है।
नोएडा प्रशासन ने अपना बॉर्डर अभी भी सील कर रखा है। बिना पास चेकिंग के किसी को एंट्री नहीं मिल रहा है। दिल्ली से उत्तर प्रदेश आने वालों को डीएनडी बॉर्डर पर रोका जा रहा है। एक-एक गाड़ियों की चेकिंग होने के चलते यहां नोएडा-दिल्ली बॉर्डर पर भारी ट्रैफिक जाम हो गया है।
बिना पास वालों को किया जा रहा वापस
एक व्यक्ति ने बताया कि वह पालम दिल्ली से आया था। उसे नोएडा सेक्टर 62 जाना है। वह वहां नौकरी करता है। उसने कहा कि 28 तारीख से वह रोज दफ्तर जा रहा है लेकिन तब तो किसी ने नहीं रोका। आज उसकी बाइक बॉर्डर पर रोक दी गई और पास मांगा गया। उसके दफ्तर से कोई पास नहीं मिला है इसलिए अब उसे वापस जाना पड़ रहा है।
भीड़ देखकर 6 लेनों से गाड़ियों को दिया गया पास
डीएनडी बॉर्डर पर भीषण जाम से लोग बेहाल हो गए। कई किलोमीटर दूर तक यहां बाइकें और कारें ही नजर आ रही हैं। हालांकि जाम की स्थिति को देखते हुए यहां नोएडा पुलिस ने चेकिंग की लेन बढ़ाकर छह कर दीं। लोगों को अब छह लेन में चेकिंग करके गाड़ियों को पास दिया जा रहा है लेकिन नोएडा की तरफ आने वालों की इतनी ज्यादा संख्या है कि जाम कम होने का नाम नहीं ले रहा है।
हरियाणा और दिल्ली के बीच आना-जाना हुआ आसान
गुड़गांव और फरीदाबाद प्रशासन पहले ही बंदिशें हटा चुके हैं और वहां जाने के लिए किसी पास की भी जरूरत नहीं है इसलिए गुड़गांव-फरीदाबाद की तरफ जाम भी नहीं लग रहे। लेकिन नोएडा और गाजियाबाद में आने-जाने के लिए अब भी पास की जरूरत है। अनिवार्य सेवा से जुड़े लोग पास दिखाकर ही आ-जा सकते हैं। केंद्र और दिल्ली सरकार के कर्मचारियों को आईडी भी दिखाना होगा। हालांकि, गाजियाबाद की तरफ चेकिंग में कुछ छूट दिख रही है पुलिस उतनी सख्ती से पास चेक नहीं कर रही है।
केंद्र ने बॉर्डर खोलने के दिए हैं आदेश
दिल्ली सरकार ने यूपी और हरियाणा के बॉर्डर 8 जून तक के लिए सील किए थे। यूपी और हरियाणा ने दिल्लीवालों के लिए अपनी सीमाएं पहले ही सील की हुई थीं। गाजियाबाद, फरीदाबाद, नोएडा और गुड़गांव सभी जगहों के प्रशासन का कहना था कि दिल्ली की वजह से उनके इन इलाकों में कोरोना केस बढ़ रहे हैं। लेकिन लॉकडाउन खुलने के बाद उद्योग खुले तो लोगों को नौकरी आदि के लिए इधर-उधर जाने में दिक्कत होने लगी थी इसे देखते हुए बॉर्डर खोले गए। केंद्र सरकार ने भी राज्यों की सीमाओं को खोलने को कह दिया था।
-एजेंसियां
Reactions