परीक्षा के नियमों में एकबार फिर बदलाव करेगा UGC (University Grants Commission)


नई दिल्ली, Nit. :
कोरोना वायरस महामारी के बीच परीक्षाएं किस तरह ली जाएं, इसे लेकर नये दिशा-निर्देश जारी होने वाले हैं। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग UGC इस पर काम कर रहा है। इस संबंध में नई जानकारी भी दी गई है।
गौरतलब है कि बीते महीने यूजीसी ने कोरोना महामारी के बीच कॉलेज एग्जाम्स व अन्य परीक्षाएं कैसे कराई जाएं, इसे लेकर दिशा-निर्देश जारी किए थे लेकिन बदलते माहौल के मद्देनजर आयोग ने इसमें संशोधन करने का फैसला किया है।
दरअसल, कई बड़े संस्थान जहां स्टूडेंट्स की संख्या ज्यादा है, ऐसे माहौल में परीक्षा कराने में खुद को असमर्थ बता रहे हैं। ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (AICTE) के चेयरमैन अनिल सहस्रबुद्धे ने कहा कि ‘विभिन्न राज्यों में कोविड-19 के वर्तमान हालात को देखते हुए यूजीसी कुछ समय पहले जारी दिशा-निर्देशों में बदलाव कर रहा है।’
ये संस्थाएं भी होंगी शामिल
सहस्रबुद्धे ने बताया कि ‘यूजीसी के इस निर्णय में एआईसीटीई, बार काउंसिल ऑफ इंडिया, आर्किटेक्चर काउंसिल, फार्मेसी काउंसिल समेत देश की अन्य शीर्ष शैक्षणिक संस्थाएं भी शामिल होंगी। सभी मिलकर देश के हालात की समीक्षा करेंगे और परीक्षाओं के लिए नए दिशानिर्देश तैयार करेंगे।’
मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया, डेंटल काउंसिल ऑफ इंडिया, काउंसिल ऑफ आर्किटेक्चर, बार काउंसिल ऑफ इंडिया ने अपने संबंधित कॉलेजों से ऑनलाइन एग्जाम्स व प्रोजेक्ट्स कराने के लिए कहा है। कुछ शैक्षणिक परिषदों ने साफ कह दिया है कि बिना परीक्षा स्टूडेंट्स को ग्रेजुएट कर देने से उनके संबंधित कानूनों का उल्लंघन होगा।
-एजेंसियां
Reactions