ट‍िकट बुक‍िंग में होगा AI का इस्तेमाल, IRCTC ने क‍िया बड़ा बदलाव

AI will be used in ticket booking, IRCTC has made a big change

नई दिल्ली, Nit, :

 भारतीय रेल की आधिकारिक ऑनलाइन टिकट बुकिंग वेबसाइट IRCTC में बड़ा बदलाव होने जा रहा है, अब ट‍िकट बुक‍िंग के ल‍िए आर्ट‍िफ‍िश‍ियल इंटेलीजेंस का इस्तेमाल क‍िया जाएगा। यह ऐप के जरिये टिकट बुकिंग करने वालों के ल‍िए नया अनुभव होगा।

यह बदलाव IRCTC टिकट बुकिंग सिस्टम में अगले महीने यानी अगस्त से ही देखने को मिलेगा। सभी यात्रियों को ज्यादा से ज्यादा कंफर्म टिकट उपलब्ध हो सके, इसके लिए भारतीय रेल यह कदम उठाने जा रही है।
IRCTC के जरिये टिकट बुकिंग करने वालों के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) सिस्टम का इस्तेमाल किया जाएगा। इस टेक्निकल अपग्रेड के बाद IRCTC के जरिये टिकट की बुकिंग न केवल ज्यादा आसान हो जाएगी, बल्कि यात्रियों को ज्यादा से ज्यादा कंफर्म टिकट मिलने की संभावना भी बढ़ जाएगी।

ट्रेन, टिकट की पूरी जानकारी

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वीके यादव ने बताया कि नये टिकटिंग सिस्टम को अगले महीने रोल आउट किया जाएगा। वीके यादव ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये कहा कि इस नये बदलाव के बाद से यात्रियों को बेहतरीन सर्विस उपलब्ध होगी। यात्रियों की बेहतर सुविधा के लिए इस नये फीचर को रोल आउट किया जाएगा, ताकि यात्रियों को ट्रेन और टिकट के बारे में पूरी जानकारी और भी बेहतर तरीके से मिल सके।

Check-In का नया तरीका

भारतीय रेल यात्रियों की सुविधा को भी अपग्रेड कर रही है। जल्द ही प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर एयरपोर्ट जैसी सुविधा देखने को मिलेगी। नये टिकटिंग सिस्टम के जरिये टिकट बुक करने के बाद यात्री को SMS के जरिये QR कोड का URL मिलेगा। यात्री को रेलवे स्टेशन में एंट्री करते समय इसी कोड का इस्तेमाल करके चेक-इन करना होगा। ऐसा करने से बिचौलियों से निजात भी मिलेगी और यात्रियों को ज्यादा से ज्यादा कंफर्म टिकट मिलने की संभावना बढ़ जाएगी।

QR कोड का इस्तेमाल

हवाई अड्डों की तरह रेलवे भी क्यूआर कोड वाले कॉन्टैक्टलेस टिकट देने की तैयारी कर रहा है, जिन्हें स्टेशन और ट्रेनों पर मोबाइल फोन से स्कैन किया जा सकेगा। रेलवे बोर्ड के अनुसार, वर्तमान में ट्रेन के 85 प्रतिशत टिकट ऑनलाइन बुक होते हैं और काउंटर से टिकट खरीदने वालों के लिए भी क्यूआर कोड की व्यवस्था की जाएगी।

कोरोना वायरस महामारी से रोकथाम के लिए लोग डिजिटल और कॉन्टैक्टलेस सुविधाओं का इस्तेमाल ज्यादा कर रहे हैं। इसी दिशा में रेलवे ने भी पहल की है। इस आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बेस्ड सॉल्यूशन के माध्यम से यात्री स्टेशन और ट्रेनों में अपने टिकट को मोबाइल फोन के जरिये स्कैन करके सफर कर सकेंगे। भारतीय रेल ने इसकी शुरुआत मुंबई लोकल से की है।
-एजेंसी

Reactions