Exclusive News: आज 1 जुलाई से बदल गए आधार नंबर से जुड़े नियम


नई दिल्ली, Nit. :

1 जुलाई का दिन देश के ल‍िए सबसे अहम दिन है क्योंकि आज से आधार नंबर संबंंधी कई नियम बदल गए हैं। आज से इनकम टैक्स और आधार से जुड़ा नियम भी बदल गया है। अब इनकम टैक्स रिटर्न फाइल (Income Tax Return File) करते हुए आधार नंबर का ब्योरा देना जरूरी होगा।

तीन साल पहले आज ही के द‍िन केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार देश में माल एवं सेवा कर (जीएसटी) प्रणाली को अमल में लेकर आई थी। देश की कर प्रणाली में सुधार की दिशा में इसे अत्यंत महत्वपूर्ण कदम करार दिया गया। और आज ही से आधार नंबर को लेकर बदलाव और पर‍िष्कृत क‍िया गया है।

इसका मतलब ये है कि आज से अगर आपके पास आधार नंबर नहीं है तो आप रिटर्न फाइल नहीं कर सकते हैं। जुलाई से आधार की अहमियत बढ़ गई है। अगर आपके पास आधार नहीं है तो 1 जुलाई के बाद से आप PAN कार्ड भी नहीं बनवा सकते हैं। इतना ही नहीं विदेश मामलों के मंत्रालय ने आधार को पासपोर्ट बनवाने के लिए अनिवार्य कर दिया है। 1 जुलाई के बाद अगर आपके पास आधार नहीं है तो आपका पासपोर्ट भी नहीं बन सकता है।

PF खातों से आधार को जोड़ना अनिवार्य

एंप्लॉयीज प्रॉविडेंट फंड ऑर्गेनाइजेशन (EPFO) ने PF खातों से आधार को जोड़ना अनिवार्य कर दिया है. पेंशन लेने वालों को भी अब आधार नंबर की जानकारी देनी होगी। EPFO के मुताबिक, आधार लिंक होने से PF का पैसा निकालने और सेटलमेंट में वक्त कम लगेगा। अभी तक इसमें 20 दिन का समय लगता था जो आधार लिंक करने के बाद 10 दिन हो जाएगा।

आपका आधार कहां-कहां यूज हुआ है इसका ऐसे लगाएं पता
सबसे पहले आप https://resident.uidai.gov.in वेबसाइट खोलिए और आधार ऑथेंटिकेशन हिस्ट्री पेज पर जाने के लिए लिंक पर क्लिक करें. अब आप अपना आधार नंबर और सिक्यॉरिटी कोड भरिए। इसके बाद ‘Generate OTP’ पर क्लिक करना होगा। इसके बाद मोबाइल पर OTP प्राप्त होगा. इसके लिए जरूरी है कि UIDAI वेबसाइट पर आपका मोबाइल नंबर पहले से सत्यापित हो।

ओटीपी डालने के बाद कुछ और विकल्प दिखाई देंगे, इनमें सूचना की अवधि और ट्रांजैक्शंस की संख्या बतानी होगी। अपना OTP भरने के बाद ‘Submit’ पर क्लिक करें। चुनी गई अवधि में ऑथेंटिकेशन अनुरोध की तारीख, समय और प्रकार पता चल जाएगा हालांकि पेज से यह पता नहीं चलेगा कि ये अनुरोध किसने किया है।
– एजेंसी

Reactions