अलीगढ़ बीजेपी विधायक और थानेदार के बीच मारपीट, तनाव व्‍याप्‍त : Aligarh BJP MLA vs Police Fight

मोहित शर्मा, अलीगढ़, Nit. :
अलीगढ़ में बीजेपी विधायक और थानेदार के बीच बुधवार को मारपीट हो गई। बीजेपी विधायक राजकुमार सहयोगी ने आरोप लगाया कि गोंडा थाने में एसओ सहित तीन दारोगा ने मुझ पर हमला बोल दिया और कपड़े भी फाड़ दिए। वहीं एसओ का कहना है कि विधायक ने ही सबसे पहले हाथ उठाया था। इस घटना के बाद थाने के बाहर विधायक समर्थकों की भारी भीड़ इकट्ठा हो गई है। तनाव के माहौल के कारण इलाके में आधी दुकानें बंद हो गई हैं। मौके पर उच्चाधिकारी व अन्य विधायक भी पहुंच गए हैं।

बताया जा रहा है कि बीजेपी विधायक राजकुमार सहयोगी पार्टी कार्यकर्ता के साथ बीते दिनों हुए झगड़े के मामले में थाने में बातचीत करने पहुंचे थे। इसी दौरान दोनों पक्षों में भिड़ंत हो गई। विधायक ने कार्यकर्ता प्रकरण में रुपए लेकर पुलिस पर कार्यवाही नहीं करने का आरोप लगाया तो विधायक और पुलिस में भिड़ंत की जानकारी मिलने के बाद पुलिस महकमे में खलबली मच गई है। विधायक समर्थक और बीजेपी कार्यकर्ता बड़ी संख्या में थाने के बाद पहुंच चुके हैं और विरोध जता रहे हैं।

डीएम व एसएसपी पहुंचे गोंडा थाने
मामले की जानकारी मिलते ही डीएम और एसएसपी गोंडा थाने पहुंच गए हैं। दोनों पक्षों में बातचीत करके मामला शांत कराने का प्रयास चल रहा है। इसी बीच खबर है कि विधायक ने लखनऊ फोनकर हाईकमान को सारी बात बताई है। इसके बाद शासन की टीम सक्रिय होकर मामले को शांत कराने में जुट गई है। सत्ताधारी दल और शासन के अधिकारी पल-पल की जानकारी ले रहे हैं।
इस पूरे प्रकरण पर गोंडा थाने पर मौजूद चौकीदार बत्तनलाल ने बताया कि इगलास से बीजेपी विधायक के विधायक राजकुमार सहयोगी थाने पर आते ही गाली-गलौज करने लगे। इसी बीच उन्होंने एसओ अनुज सैनी के गाल पर थप्पड़ मार दिया। इसी के बाद दोनों के बीच खींचतान बढ़ गई।

क्या है मामला : इगलास विधानसभा सीट से भाजपा विधायक राजकुमार सहयोगी ने बताया कि पार्टी कार्यकर्ता रोहित वार्ष्णेय की संपत्ति विवाद को लेकर सलीम नामक व्यक्ति ने पिटायी कर दी थी।सलीम के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज किया गया था और कुछ दिन बाद रोहित के खिलाफ भी मामला दर्ज कर लिया गया और जब रोहित इसका विरोध करने गया तो थाने पर तैनात पुलिसकर्मियों ने उनसे कथित तौर पर दुर्व्यवहार किया।

विधायक ने कहा कि रोहित विश्व हिन्दू परिषद के सक्रिय सदस्य हैं और उनके खिलाफ बेवजह मामला दर्ज किया गया है।जिसको लेकर थाने गए थे लेकिन इस दौरान एसएचओ सहित तीन पुलिस अधिकारी उनके साथ मारपीट करने लगे।तो वहीं दूसरी ओर पुलिसकर्मियों ने विधायक पर आरोप लगाते हुए कहा है कि उन्होंने बदसलूकी व अभद्रता की है।

क्या बोले विधायक : बीजेपी विधायक ने कहा कि पुलिस के द्वारा जो बयान दिया जा रहा है वह गलत है उनके द्वारा कोई भी अभद्रता किसी प्रकार की नहीं की गई है बल्कि शांतिपूर्वक अपनी बात कह रहे थे तभी थाना प्रभारी सहित अन्य पुलिसकर्मी उनसे झगड़ने लगे।
Reactions