UP Unlock-4 : अब सिर्फ रविवार को लॉकडाउन और बंदी, शिक्षण संस्‍थानों को भी छूट

लखनऊ, Nit. :
यूपी में अनलॉक-4 की स्थितियों की समीक्षा करते हुए प्रदेश की योगी सरकार ने अब शनिवार और रविवार की जगह सिर्फ रविवार को प्रदेश में लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बाजार सुबह नौ बजे से रात्रि नौ बजे तक खुलेंगे। प्रदेश में बाजारों की साप्ताहिक बंदी सिर्फ रविवार के दिन कराई जाएगी। मंगलवार को लखनऊ में हुई उच्च स्तरीय बैठक के बाद सीएम योगी ने यह फैसला लिया है।
सरकार के इस फैसले के बाद हफ्ते में 6 दिन लोगों को बाहर निकलने की छूट होगी। हालांकि रविवार के दिन लोगों को बाहर निकलने की इजाजत नहीं दी जाएगी। सीएम योगी ने इस बाबत अधिकारियों को सभी व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। इससे पहले सरकार की ओर से मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने रविवार को प्रदेश में अनलॉक-4 की गाइडलाइन जारी की थी। नई नियमावली के तहत 21 सितंबर से प्रदेश में सार्वजनिक कार्यक्रमों में 100 लोगों की सहभागिता की इजाजत दे दी गई है। इसके साथ ही राज्य में मेट्रो रेल के संचालन और ऑनलाइन एजुकेशन के लिए शिक्षकों को स्कूल बुलाने के नियम भी बनाए गए हैं।
अनलॉक-4 में शैक्षिक संस्थानों को मिली है छूट
सरकार के फैसले के अनुसार शैक्षिक संस्थानों को अनलॉक-4 में कई छूट देने का फैसला किया गया है। सरकार ने आदेश में कहा है कि सभी स्कूल, कॉलेज, शैक्षिक संस्थान और कोचिंग छात्रों और सामान्य शैक्षणिक काम के लिए 30 सितंबर तक बंद रहेंगे। हालांकि 21 सितंबर से स्कूलों में टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ को ऑनलाइन एजुकेशन के लिए बुलाया जा सकेगा। इसके लिए एक एसओपी का पालन करना होगा, जिसे स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किया जाएगा।
हर रोज डेढ़ लाख कोविड टेस्ट करने का लक्ष्य
इन गाइडलाइंस के जारी होने के दो दिन बाद लखनऊ में मंगलवार को हुई बैठक के दौरान सीएम ने प्रदेश में कोरोना के हालातों की भी समीक्षा की। इस बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में कोविड-19 परीक्षण क्षमता को शीघ्र बढ़ाकर डेढ़ लाख टेस्ट प्रतिदिन किए जाने के निर्देश दिए।
टेस्टिंग में वृद्धि का काम निरंतर जारी रखा जाए
योगी ने कहा कि जब तक कोविड-19 की कोई कारगर दवा अथवा वैक्सीन विकसित नहीं हो जाती, है तब तक अधिक से अधिक टेस्टिंग ही इसके खिलाफ सबसे बड़ा हथियार है। इसलिए टेस्टिंग कार्य में वृद्धि के प्रयास लगातार जारी रखे जाएं।
-एजेंसियां
Reactions