Corona vs Shadi: शादी में दावत खाने पहुंचे 350 मेहमान, दूल्हा और दुल्हन के पिता के साथ बैंक्विट हॉल मालिक पर दर्ज हुआ मुकदमा



यूपी शादी विवाह के लिए जारी गाइडलाइंस का पालन नहीं करने पर मेरठ में दूल्हा, दुल्हन के पिता और बैंक्विट हॉल के मालिक पर मुकदमा दर्ज किया गया है। बताया जा रहा है इस शादी में 350 से अधिक लोग जमा थे जबकि 100 लोगों की अनुमति थी।  

सब इंस्पेक्टर मनोज कुमार ने बताया कि मंगलवार रात वह गश्त कर रहे थे। इस दौरान कुछ लोगों ने जानकारी दी कि ओलिविया होटल के सामने बैजल भवन में शादी समारोह में काफी भीड़ इकट्ठा है। पुलिस मौके पर पहुंची तो देखा कि कोविड-19 उल्लंघन करके 100 से ज्यादा लोगों की भीड़ मौजूद है। ज्यादातर लोगों ने मास्क की नहीं लगा रखे थे। पुलिस के मुताबिक सामाजिक दूरी का भी कोई पालन नहीं किया जा रहा था। सब इंस्पेक्टर मनोज कुमार की ओर से बैजल भवन के मालिक हेमंत बैजल, दूल्हे के पिता राजू चौहान निवासी ग्रास मंडी सदर बाजार, दुल्हन के पिता वीर सिंह निवासी कसेरुखेड़ा के खिलाफ महामारी अधिनियम की धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है। एसपी सिटी डॉक्टर अखिलेश नारायण सिंह ने बताया कि शादी समारोह में कोविड-19 के नियमों का पालन नहीं करने पर विधिक कार्रवाई की जाएगी।

100 लोगों की ले रखी थी अनुमति
पुलिस ने बताया कि थाना सिविल लाइन में बैजल भवन शादी हॉल में साढ़े तीन सौ से ज्यादा लोग शादी में जमा हुए,जिसकी वजह से बैजल भवन मालिक हेमंत बैजल पर और दूल्हे के माता-पिता पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया। हालांकि लड़की पक्ष ने 100 लोगो की परमिशन ले रखी थी, लेकिन मौजूद लोगो की संख्या साढ़े तीन सौ ज़्यादा थी।

कोविड गाइडलाइंस का पालन नहीं हो रहा था: एएसपी कैंट
बताया जाता है कि यहां कसेरूखेड़ा ऊंचा मोहल्ला निवासी वीर सिंह की बेटी की शादी के लिए ग्रास मंडी सदर बाज़ार निवासी राजू चौहान की बारात आई थी। शादी में शामिल लोगों की संख्या निर्धारित से काफी ज्यादा थी। लिहाज़ा ये सख्त कार्रवाई की गई है। एएसपी कैंट ईरज राजा का कहना है कि मेरठ में शादी समारोह के दौरान कोविड गाइडलाइंस का पालन न करने पर मुकदमा दर्ज होने का ये पहला मामला है। उन्होंने कहा कि शादी समारोह के दौरान अगर कहीं भी कोविड गाइडलाइंस का पालन न किया गया सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

Reactions