राष्ट्रीय राजधानी में अब लॉकडाउन नहीं लगेगा: Delhi Health Minister

नई दिल्‍ली, Nit. :
दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने स्पष्ट किया है कि राष्ट्रीय राजधानी में अब लॉकडाउन नहीं लगेगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली में फिर से लॉकडाउन लगाने की जरूरत ही नहीं है। उन्होंने कहा कि कुछ व्यस्त इलाकों में स्थानीय स्तर पर पाबंदियां लगाई जाएंगी। जैन ने बताया कि ज्यादा-से-ज्यादा कोविड टेस्ट हो रहे हैं और आगे इनकी संख्या और बढ़ाई जाएगी।
उन्होंने कहा, ‘छठ पूजा में बड़ै पैमाने पर भीड़-भाड़ होगी जिससे वायरस आसानी से एक-दूसरे में फैल सकता है। इसलिए पाबंदियां लगाने की जरूरत है।’
सीएम ने केंद्र से मांगी थी लॉकडाउन लगाने की अनुमति
दरअसल, दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को केन्द्र सरकार से उन बाजार क्षेत्रों में लॉकडाउन लगाने का अधिकार मांगा जो कि कोविड-19 के ‘हॉटस्पॉट’ बन सकते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘हम केन्द्र सरकार को दिल्ली सरकार को बाजार क्षेत्रों में लॉकडाउन लगाने की शक्ति देने के लिए एक प्रस्ताव भेज रहे हैं, जो कि कोविड-19 के हॉटस्पॉट बन सकते हैं।’
उन्होंने कहा कि दीपावली उत्सव के दौरान देखा गया कि अनेक लोगों ने मास्क नहीं पहन रखा था और वे उचित दूरी के नियम का पालन नहीं कर रहे थे जिसकी वजह से कोरोना वायरस बहुत अधिक फैल गया। इससे पहले दिन में दिल्ली सरकार ने अपनी प्रेस विज्ञप्ति में ‘लोकल लॉकडाउन’ शब्द का इस्तेमाल किया था लेकिन बाद में इसे संशोधित कर ‘बंद’ कर दिया गया।
केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार, केन्द्र और सभी एजेंसियां राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 की स्थिति को नियंत्रित करने के लिए दोगुना प्रयास कर रहे हैं। इस बीच, अथॉरिटीज ने अस्पतालों में आईसीयू बेड बढ़ाने, जांच की क्षमता बढ़ाकर एक से 1.2 लाख करने और ज्यादा जोखिम वाले स्थानों पर निगरानी टीमों की तैनाती समेत अन्य रणनीति तैयार की है।
एनसीआर में एहतियात
राजधानी में बढ़ते मामलों को देखते हुए एनसीआर के अन्य शहरों ने भी ऐहतियाती कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। नोएडा प्रशासन ने DND फ्लाईओवर, चिल्ला बॉर्डर पर नोएडा जा रहे लोगों की रैंडम रैपिड टेस्टिंग की जा रही है।
दिल्ली में उफान पर है कोरोना संक्रमण
दिल्ली में मंगलवार को 6,396 नए मामले 4,421 रिकवरी और 99 मौतें दर्ज की गई। इसके साथ ही, राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 4.95 लाख के पार पहुंच गई है। दिल्ली में कोरोना से अब तक 7,812 मरीजों की मौत हो चुकी है।
पाबंदियां लगाने के पक्ष में एक्सपर्ट
कोविड एक्सपर्ट और केंद्र सरकार के सलाहकार डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा कि दिल्ली में कई जगहों पर कोविड बिहेवियर का सही तरीके से पालन नहीं किया जा रहा है। यहां कई ऐसे सुपर स्प्रेडर हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि बाजार या भीड़भाड़ वाले जगहों पर अगर कोई संक्रमित व्यक्ति है और वह मास्क नहीं पहना है तो उसकी वजह से एक साथ 100 से 150 लोग संक्रमित हो सकते हैं और फिर ये लोग जहां-जहां जाएंगे, वहां संक्रमण फैलाएंगे। ऐसे सुपर स्प्रेडर को रोकना होगा, वरना कोविड और स्पाइक हो जाएगा। हर किसी को अपनी तरफ से अब यह सोचना होगा। सरकार को ऐसे एरिया में सख्ती बरतनी होगी, हॉट स्पॉट वाले जगहों पर लॉकडाउन करना होगा।
-एजेंसियां
Reactions