Kaimganj News: पुरानी रंजिश में युवक को दारू पिलाकर किया मौत के हवाले

फर्रुखाबाद, कायमगंज Nit. : 
कोतवाली क्षेत्र के गाँव हजरतपुर नगरा निवासी सुरेन्द्र शाक्य उम्र 35 वर्षीय पुत्र वेदराम जो की लगभग 8 वर्ष पूर्व नोएडा मे जाकर सिलाई क कार्य करके अपने परिजनो का पालन पोशण करता था। जो की बीते 8 माह पूर्व लॉकडाउन के दौरान अपने गाँव हजरतपुर नगरा मे आया था। बीते दिन शाम को उसे परिजन अचेत अवस्था मे नगर के समुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मे लेकर गए जहाँ ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक शिव प्रकाश ने युवक को मृत घोशित कर दिया। 

मृतक की माँ के अनुसार मेरा बेटा सुरेन्द्र घर पर बैठा था पडोसी मित्र विकास पुत्र जोगेन्द्र शाक्य लगभग 5.30 बजे घूमने की बात को कहकर दोनो लोग बाइक द्वारा विकास अपने घर ले गया। दोनो ने साथ वैठकर दारू पीकर मेरे बेटे सुरेन्द्र के साथ विकास व कुलव सिह पुत्र सूवेदार अमन पुत्र जोगेन्द्र प्रेम पाल रतनेश पुत्रगण कुलव सिह व उसकी पत्नी ने मेरे बेटे के साथ लात घूसे लाठी-डंडों से मारपीट करने लगे। तभी वहाँ से गुजर रहे अनिकेत पुत्र सरवेश ने सुरेन्द्र को पिटता देख फोन करके मां सुखदेवी को सूचना दी कि तुम्हारे बेटे को विकास सहित उसके परिजन सुरेन्द्र के साथ मारपीट कर रहे है। तभी तुरन्त सूचना पाते ही उसकी माँ सुखदेवी बीच बचाव के लिए विकास के घर पहुँची वैसे ही कुलव सिह पुत्र सुवेदार ने माँ सुखदेवी के सर मे वाल्टी मारकर घायल कर दिया। कुछ देर बाद पडोसी अनिकेत ने परिजनो को सूचना दी। सूचना पाते ही अनिल अरविन्द अनिकेत विनय सहित आदि परिजन मौके पर पहुँच कर सुरेन्द्र को अचेत अवस्था मे नगर के समुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मे पहुंचाया। जहाँ डाक्टर ने युवक को मृत घोशित कर दिया। मृतक सुरेन्द्र का विवाह लगभग 4 वर्ष पूर्व आरती पुत्री अजय कुमार निवासी ग्राम हाफिजपुर थाना कुरावली जिला मैनपुरी के साथ हुआ था। जिससे 2 जुडवा बच्चे 6 माह के है। 1 बेटा 1 बेटी है। मृतक के तीन भाई बडा भाई अनिल, छोटा अरविन्द, उससे छोटा मृतक सुरेन्द्र था। वही अनिल ने बताया की मेरा लगभग एक महा पूर्व विवाद विकास से हो गया था। दोनो मे मारपीट जमकर हुई थी। शायद उसी रंजिश को लेकर मेरे भाई को दवगो ने मारपीट करने के बाद गला घोटकर हत्या करने क आरोप लगाया है। घटना की सूचना पाते ही मौके पर पहुँची पुलिस ने शव का पंचनामा भरवा कर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा। मौत की सूचना पाते ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।
Reactions