UP MLC Election Result 2020: एमएलसी चुनाव प्रेक्षक अजय सिंह को हृदयाघात, हालत गंभीर, देखिए Winners List

UP MLC Election Result 2020: 

उत्तर प्रदेश में विधान परिषद (MLC) के खंड स्‍नातक और खंड शिक्षक क्षेत्र से 11 सीटों के लिए चुनाव की मतगणना जारी है। गुरुवार से जारी मतगणना के बाद कुछ सीटों के नतीजे घोषित हो चुके हैं, जबकि कुछ पर मतगणना जारी है। मसलन झांसी में रुक रुक कर हंगामा होगा है। यहां भाजपा और सपा कार्यकर्ता आमने सामने हैं। यहां मतगणना केन्द्र में भाजपाइयों को घुसने से रोकने पर पुलिस के साथ तीखी झड़प हुआ। पुलिस बल ने भाजपाइयों पर लाठी चार्ज भी किया। पढ़िए अपडेट्स

एमएलसी चुनाव प्रेक्षक अजय सिंह को हृदयाघात, हालत गंभीर

उप्र विधान परिषद चुनाव में शिक्षक कोटे की सीट के लिए बतौर प्रेक्षक लखनऊ से आए आइएएस अधिकारी अजय सिह शुक्रवार को सर्किट हाउस से मार्निंग वाक के लिए जैसे ही निकले अचानक बेहोश होकर गिर पड़े। आननफानन उन्हें निजी हास्पिटल में भर्ती कराया गया। जांच में हृदयाघात की पुष्टि हुई है। गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें आइसीयू में रखा गया है।

उनकी गंभीर स्थिति देख डीएम, कमिश्नर, सीएमओ समेत जिले के शीर्ष अफसर मतगणना छोड़ अस्पताल पहुंच गए। एयर एंबुलेंस से उन्हें दिल्ली ले जाने की भी कवायद शुरू की गई। इसके लिए मकबूल आलम रोड से लेकर एयरपोर्ट तक सड़क की एक लेन खाली कराते हुए ग्रीन कारिडोर भी बना लिया गया। हालांकि उनकी स्थिति को देखते हुए दिल्ली के साथ ही बीएचयू के हृदय रोग विशेषज्ञों ने भी एयर लिफ्टिग से मना कर दिया। सीएमओ डा. वीबी सिह के अनुसार अजय कुमार सिह को हृदयाघात के साथ ही न्यूरो, रीनल व गुर्दा संबंधित भी समस्या है। वहीं देर शाम प्रशासन की ओर से जारी मेडिकल बुलेटिन में उनकी स्थिति गंभीर, लेकिन स्थिर होने की जानकारी दी गई। कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बताया कि उनकी हालत अब भी गंभीर है। निजी अस्पताल के साथ ही बीएचयू के हृदय रोग विशेषज्ञ उनकी स्थिति पर लगातार नजर बनाए हुए हैं। अजय कुमार सिह 1999 बैच के आइएएस अधिकारी हैं। उनकी पत्नी नीना शर्मा भी उसी बैच की आइएएस हैं। उनकी ड्यूटी आब्जर्वर के तौर पर आगरा में लगी थी। जानकारी होने पर दोपहर में वह भी वाराणसी आ गईं।

मेरठ में शिक्षक सीट पर भाजपा प्रत्याशी श्रीचंद शर्मा ने 48 साल का रिकार्ड तोड़ दिया है। उन्होंने आठ बार से एमएलसी रहे ओमप्रकाश शर्मा को प्रथम वरीयता के मतों में 4184 से हरा दिया है।

वाराणसी स्नातक शिक्षक खंड से सपा समर्थित प्रत्याशी लाल बिहारी यादव ने बाजी मारी।

बरेली से भाजपा के हरि सिंह ढिल्लो ने जीत हासिल की है। वह 12,827 वोटों से विजयी रहे।

लखनऊ शिक्षक लखनऊ खंड निर्वाचन से भाजपा के उमेश द्विवेदी विजयी हुए हैं। उन्हें कुल 7065 मत मिले, जबकि दूसरे नंबर पर निर्दलीय डॉ. महेंद्रनाथ राय से रहे।

झांसी-प्रयागराज स्नातक एमएलसी सीट पर 10 राउंड की गिनती पूरी। सपा के मानसिंह यादव 2500 वोटों से आगे, उन्हें 19421 मत मिले। भाजपा के यज्ञदत्त शर्मा को मिले 16888 वोट। सपा 2533 वोटों से आगे। तीसरे स्थान पर निर्दलीय उम्मीदवार हरिप्रकाश को मिले 7937 वोट। अब होगी दूसरी वरीयता के मतों की गिनती।


गोरखपुर-फैजाबाद खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के 2020 के चुनाव में भी बाजी मारते हुए उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ (शर्मा गुट) के प्रत्याशी ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने जीत की हैट्रिक लगाई है। इस सीट पर लगातार तीन बार जीतने वाले वह पहले प्रत्याशी बन गए हैं। उन्होंने अपने निकतटम प्रतिद्वंद्वी अजय सिंह को 1008 मतों से पराजित किया। ध्रुव को 10227 जबकि अजय सिंह को 9219 वोट मिला।


झांसी : झांसी-इलाहाबाद स्नातकचुनाव के 9वें राउंड के बाद समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी डॉक्टर मान सिंह यादव अपने निकटतम प्रतिद्वन्दी भाजपा के यज्ञदत्त शर्मा से लगभग 2000 मतों से आगे चल रहे हैं।


मेरठ : मेरठ खंड शिक्षक सीट पर भाजपा प्रत्याशी श्रीचंद शर्मा ने सभी वरीयता के मतों की गणना के बाद सर्वाधिक 8222 मत प्राप्त किए। उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी आठ बार के विधानपरिषद सदस्य ओमप्रकाश शर्मा को महज 3305 वोट मिले। अनुमान है कि इस संबंध में शुक्रवार को ही आयोग द्वारा स्थिति स्पष्ट की जाएगी।


वाराणसी: एमएलसी वाराणसी खंड शिक्षक व स्नातक सीट की मतगणना गुरुवार देर रात तक जारी रही। रात डेढ़ बजे तक शिक्षक सीट पर सपा के लाल बिहारी यादव सातवें चक्र की गिनती में अपने प्रतिद्वंद्वी शिक्षक नेता डा. प्रमोद कुमार मिश्र (ओम प्रकाश शर्मा गुट) से 510 वोट से आगे चल रहे थे। लाल बिहारी को 6205 वोट तो वहीं प्रमोद मिश्र को 5695 वोट मिले थे। निवर्तमान एमएलसी चेतनारायण सिंह 4236 वोट पाकर तीसरे स्थान पर चल रहे थे। वहीं, वहीं, एमएलसी स्नातक सीट पर भी देर रात मतगणना शुरू हुई। इसमें भी सपा के आशुतोष सिन्हा सबसे आगे थे।


गोरखपुर : गोरखपुर-फैजाबाद खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए प्रथम चरण के मतों की गिनती पूरी होने के बाद दूसरी वरीयता के मतों की गिनती जारी है। समाचार लिखे जाने तक नीचे से 11 प्रत्याशी अनिल कुमार गौतम, अनिल कुमार श्रीवास्तव, नागेंद्र दत्त त्रिपाठी, देशबंधु शुक्ला, लाल बहादुर यादव, अरुण सिंह, रमेश कुमार विमल, नागेंद्र प्रताप सिंह, विभ्राट चंद कौशिक,राम प्रताप राम व राम जन्म सिंह परिणाम के दौर से बाहर (एलिमिनेट) हो चुके हैं। निवर्तमान एमएलसी ध्रुव त्रिपाठी एवं अजय सिंह के बीच कांटे की टक्कर जारी है। ध्रुव त्रिपाठी अपने निकटम प्रतिद्वंद्वी अजय सिंह से 857 मतों से आगे चल रहे हैं। ध्रुव को 9200 व अजय सिंह को 8343 मत प्राप्त हुए हैं।


वाराणसी: एमएलसी वाराणसी खंड शिक्षक व स्‍नातक सीट की मतगणना गुरुवार देर रात तक जारी रही। रात डेढ़ बजे तक शिक्षक सीट पर सपा के लाल बिहारी यादव सातवें चक्र की गिनती में अपने प्रतिद्वंद्वी शिक्षक नेता डा. प्रमोद कुमार मिश्र ( ओम प्रकाश शर्मा गुट) से 510 वोट से आगे चल रहे थे। लाल बिहारी को 6205 वोट तो वहीं प्रमोद मिश्र को 5695 वोट मिले थे। निवर्तमान एमएलसी चेतनारायण सिंह 4236 वोट पाकर तीसरे स्थान पर चल रहे थे।


इससे पहले सुबह आगरा में मंडी समिति में स्ट्रांग रूम को खोले गए। स्नातक सीट के पांच और शिक्षक के दो स्ट्रांग रूम हैं। जिनमें आगरा से 12 जिलों की मतपिटिकाए बंद थीं। दोनों सीटों के लिए पांच से सात घंटे तक वोटों की मिक्सिंग होगी। शाम तक नतीजे आने लगेंगे। मेरठ में भी मतगनणना जारी है। यहां के डीएम के. बालाजी ने बताया, उचित व्यवस्था के साथ मतगणना जारी है। मतगणना स्थल पर प्रत्याशी या एजेंट के रूप में किसी एक शख्स को मौजूद रहने की अनुमति है। एमएलसी चुनाव में शिक्षक सीट में भाजपा प्रत्याशी दिनेश वशिष्ठ 208 वोटों से आगे चल रहे हैं। दूसरे पायदान पर निर्दलीय प्रत्याशी आकाश हैं।


आगरा : आगरा खंड स्नातक एवं शिक्षक विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) चुनाव की गुरुवार को हुई मतगणना में शिक्षक सीट पर निर्दलीय प्रत्याशी डा. आकाश अग्रवाल ने भाजपा प्रत्याशी डा. दिनेश कुमार वशिष्ठ पर बढ़त बना ली है। करीब एक घंटे हंगामे के बाद देर शाम भाजपा प्रत्याशी ने पुनर्मतगण्ना के लिए आवेदन किया है।


फीरोजाबाद रोड स्थित मंडी समिति में सुबह आठ बजे धीमी गति से मतगणना शुरू हुई। शिक्षक सीट के लिए पहले राउंड की मतगणना शाम छह बजे पूरी हो सकी। इसमें भाजपा प्रत्याशी डा. दिनेश कुमार वशिष्ठ को 2718 वोट मिले, निर्दलीय प्रत्याशी डा. आकाश अग्रवाल 2601 वोट के साथ दूसरे स्थान पर रहे थे। निवर्तमान एमएलसी जगवीर किशोर जैन पहले राउंड में ही मुकाबले से बाहर हो गए। पहले राउंड की मतगणना में 14 टेबल में कुल 13995 वोट निकले। इसमें 541 वोट रद हुए। सबसे अधिक वोट टेबल नंबर चार में 57 रहे। दोनों सीटों पर कुल 38 प्रत्याशी मैदान में हैं। स्नातक में 22 और शिक्षक में 16 प्रत्याशी हैं।


गोरखपुर : गोरखपुर-फैजाबाद खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए प्रथम चरण के मतों की गिनती पूरी हो गई है। इसमें ध्रुव त्रिपाठी अपने निकटम प्रतिद्वंद्वी अजय सिंह से 854 मतों से आगे चल रहे हैं। ध्रुव को 8730 जबकि अजय को 7876 वोट मिले हैं। राजीव यादव को 3614 जबकि सपा के अवधेश यादव को 2438 मत प्राप्त हुए हैं। दूसरे चरण की गणना शुरू हो गई है। मतगणना प्रक्रिया गुरुवार को सुबह आठ बजे से कड़ी सुरक्षा के बीच शुरू हो गई। दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के वाणिज्य संकाय भवन में सबसे पहले इस क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले 17 जिलों से की लाई गई मटपेटिका का मिलान किया गया, उसके बाद मतों की 50-50 की गड्डी बनाई गई। रिटर्निंग ऑफिसर (आरओ) के टेबल पर मतों के सत्यापन के बाद प्रथम चरण के 14 हजार वोटों की गिनती पूरी हो गई है। दूसरे चरण के मतों की गिनती शुरू होने वाली है। प्रथम चरण में निवर्तमान एमएलसी ध्रुव त्रिपाठी, अजय सिंह व सपा प्रत्याशी में टक्कर चल रही है। अब द्वितीय वरीयता के मतों की गिनती हो रही है।


इस बीच वाराणसी में हंगामा हुआ है। यहां मतगणना में धांधली का आरोप लगाते हुए सपा कार्यकर्ता पहड़िया मंडी के बाहर धरना पर बैठ गए। आरोप है कि मतपेटिका के सील टूटे हुए हैं। मतपेटिकाएं बदली जा रही हैं। प्रशासन पूरी तरह सत्ता पक्ष के साथ खड़ा है। शिकायत कीसुनवाई नहीं हो रही है। इतना ही नहीं धमकाया भी जा रहा है।


मेरठ में मतगणना से पहले हंगामा : विधान परिषद चुनाव के अंतर्गत मेरठ में शिक्षक व स्नातक सीट के लिए कताई मिल पर मतगणना की प्रक्रिया में देरी होने और अव्यवस्थाओं का आरोप लगाते हुए प्रत्याशियों के एजेंट ने हंगामा किया। एजेंटों ने आरोप लगाया कि मतगणना स्थल पर सीसीटीवी कैमरे नहीं लगाए गए हैं। मतपेटियां काउंटर के ऊपर रखनी चाहिए थी, लेकिन उसे नीचे रख दिया गया है। बताया जा रहा है कि शिक्षक सीट की मतगणना दोपहर 12 बजे से और स्नातक सीट की दोपहर दो बजे से शुरू होगी। शिक्षक का परिणाम रात तक आने की उम्मीद है। स्नातक एवं शिक्षक पद के लिए नौ जिले के मतदाताओं ने मतदान किया है।


इन 11 सीटों में पांच खंड स्नातक और छह खंड शिक्षक की सीटें हैं, जिन पर भाजपा, सपा और कांग्रेस ने प्रत्याशी उतारे हैंं। बड़ी संख्या में निर्दलीय भी मैदान में हैं। इन सीटों पर सदस्यों को कार्यकाल इस साल मई में ही पूरो हो गया था, लेकिन कोरोना महामारी और लॉकडाइन की अड़चनों के कारण तब चुनाव नहीं हो सके थे। इसके बाद यूपी चुनाव आयोग ने तैयारी शुरू की और बीती 1 दिसंबर को मतदान हुआ था। (नीचे देखिए कहां कितना फीसदी मतदान हुआ)


बता दें यूपी विधान परिषद में कुल सदस्यों की संख्या 100 है। इनमें विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र के 38 सदस्य, तो स्‍थानीय निकाय निर्वाचन क्षेत्र के 36 सदस्य शामिल हैं। शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र सदस्यों की संख्या 08 और स्‍नातक निर्वाचन क्षेत्र के सदस्यों की संख्या भी 08 है। 10 मनोनीत सदस्यों के साथ यह संख्या 100 हो जाती है।


UP Vidhan Parishad Election Result 2020 Voting Parcent


आगरा खंड स्‍नातक: 41.56%

इलाहाबाद झांसी खंड स्‍नातक: 41.10%

लखनऊ खंड स्‍नातक: 36.74%

मेरठ खंड स्‍नातक: 42.86%

वाराणसी खंड स्‍नातक: 39.33%

आगरा खंड शिक्षक: 70 .78%

बरेली-मुरादाबाद खंड शिक्षक निर्वाचन: 73 .48%

गोरखपुर-फैज़ाबाद खंड शिक्षक निर्वाचन: 73 .94%

लखनऊ खंड शिक्षक निर्वाचन: 58 .99%

मेरठ खंड शिक्षक निर्वाचन: 62 .60%

वाराणसी खंड शिक्षक निर्वाचन: 68 .83%


Reactions