दिशा रवि की गिरफ़्तारी पर बोले Sanjay Singh ,मोदी राज में सच बोलना और हक़ बोलना “देश द्रोह” है

नई दिल्ली Nit. : 
दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन को समर्थन देने के मामले में दिल्ली पुलिस की साइबरक्राइम स्पेशल सेल द्वारा 21 साल की स्टूडेंट और क्लाइमेट चेंज एक्टिविस्ट दिशा रवि को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया गया है।

दिशा रवि पर किसानों के विरोध प्रदर्शन से संबंधित ‘टूलकिट’ फैलाने में उसकी कथित भूमिका के आरोप में मोदी सरकार द्वारा ये कार्रवाई की गई है।दरअसल बीते दिनों जब कई विदेशी हस्तियों ने किसान आंदोलन के समर्थन में सोशल मीडिया पर ट्वीट्स किए थे।

तो उनमें से एक नाम पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनवर्ग का भी था। जिन्होंने ट्वीट में ‘टूलकिट’ डॉक्यूमेंट शेयर किया था। जिसे बाद में डिलीट कर दिया गया था।बताया है कि दिल्ली पुलिस ने आपराधिक साजिश रचने के आरोप में ‘टूलकिट’ के एडिटरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी। उनपर आरोप लगाए गए हैं कि इसके जरिये खालिस्तानी ग्रुप को समर्थन देने और मोदी सरकार के खिलाफ एक साजिश रची जा रही है।

दिल्ली पुलिस का कहना है कि किसान आंदोलन के समर्थन में बनाई गई ‘टूलकिट’ को दिशा रवि द्वारा एडिट किया गया था। उन्होंने इस डॉक्यूमेंट को तैयार किया था। जिसे बाद में सोशल मीडिया पर शेयर किया गया था।

इस मामले में आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने ट्वीट कर भाजपा सरकार पर हमला बोला है।संजय सिंह ने लिखा है कि “तानाशाही का अंत जल्द होगा। पर्यावरण की रक्षा के लिये संघर्ष करने वाली Disha Ravi ने किसानों के हक़ में आवाज़ उठाई तो उसे देश द्रोही बना दिया गया, मोदी राज में सच बोलना और हक़ बोलना “देश द्रोह” है।
मोदी सरकार द्वारा दिशा रवि पर की गई कार्रवाई के खिलाफ विपक्षी दलों द्वारा आवाज उठाई गई है।दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत कांग्रेस नेता शशि थरूर, प्रियंका गांधी और राहुल गांधी और वामपंथी नेता सीताराम येचुरी ने इसकी निंदा की है।
Reactions