Kisan Mela: कृषि विज्ञान केन्द्र अवागढ़ में किसान मेले का हुआ आयोजन

कृषि से जुड़े विभागों, कम्पनियों से स्टाॅल लगाकर किसान भाईयों को किया जागरूक

एटा, Nit. : कृषि विज्ञान केन्द्र अवागढ़ रविवार को एक किसान मेले का आयोजन किया गया। जिलाधिकारी डा0 विभा चहल सहित अन्य अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों ने कृषि मेला का राजा बलवंत सिंह के चित्र पर माल्यार्पण, दीप प्रज्ज्वलित कर शुभारंभ किया गया। तदोपरान्त सभी आगन्तुत अतिथियों को पुष्प गुच्छ भेंट कर, शाॅल उड़ाकर, प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। डीएम, सीडीओ ने कृषि मेले में किसानों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से कृषि से जुड़े विभागों, कम्पनियों द्वारा लगाए गए स्टाॅल का निरीक्षण भी किया।  

डीएम ने कृषि मेेले को संबोधित करते हुए कहा कि देश के वैज्ञानिकों द्वारा दी गई जानकारी को किसान भाई अपनी कृषि में उपयोग करें। वैज्ञानिकों द्वारा हर संभव मदद की जा रही है, उनकी द्वारा बताई गई तकनीकी से हम अपनी कृषि को और अधिक उन्नत बना सकते हैं। केन्द्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा किसानों की आय दुगनी करने के उद्देश्य से सार्थक प्रयास किए जा रहे हैं। सरकार द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी किसान भाईयों को हर हाल में उपलब्ध कराई जाए। 

मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि कृषि विज्ञान केन्द्र के माध्यम से भारत सरकार द्वारा हर संभव जानकारी किसानों तक पहुंचाई जाती है। किसान भाईयों को चाहिए कि वे जानकारी का प्रयोग करते हुए जैविक खेती की तरफ ध्यान दें। कृषि अवशेष प्रबंधन पर भी प्रमुखता से जोर दिया जाए। गांव में प्रबंधन लाभ हेतु कूड़े के ढेर न लगाए जाए, कूड़ों का प्रबंधन कम्पोस्ट पिट के रूप में करके एक माह बाद बनी खाद का उपयोग करें। 
इस दौरान युवराज अमरीशपाल सिंह, डा0 अतर सिंह निदेशक भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद कानपुर, केके सिंह हैड भारतीय मौसम विभाग, आनन्द सिंह निदेशक भारतीय कृषि विकास योजना, भानू प्रताप सिंह चैहान सचिव प्रबंध समिति, डा0 मनीष सिंह वरिष्ठ वैज्ञानिक कृषि विज्ञान केन्द्र अवागढ, डीएचओ एनएस भट्ट़ सहित अन्य अधिकारीगण, एसएमएस सुधीर तोमर सहित अन्य कर्मचारीगण, भारी संख्या में किसान भाई मौजूद रहे।

Reactions