Composer Shravan kumar rathod Death: टूट गई नदीम-श्रवण की जोड़ी, नहीं रहे मशहूर संगीतकार श्रवण राठौर

नदीम-श्रवण की जोड़ी का 1990 के दशक में म्यूजिक वर्ल्ड में खूब दबदबा था.

•पहली बार इस जोड़ी ने 1979 में भोजपुरी फिल्म 'दंगल' में अपना संगीत दिया था.

•नदीम-श्रवण को पहचान फिल्म 'आशिकी' से मिली थी.

बम्बई, N.I.T : बॉलीवुड की पॉपुलर म्यूजिशियन जोड़ी नदीम-श्रवण के कंपोजर श्रवण कुमार राठौड़ का निधन हो गया है। वह मुंबई के रहेजा हॉस्पिटल में भर्ती थे और उनकी हालत गंभीर बताई जा रही थी। 67 साल के संगीतकार श्रवण राठौड़ कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए थे जिसके कारण उनको अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। श्रवण कुमार राठौड़ के बेटे ने बताया कि उनके लंग्स में पानी भर गया था। उनके हॉर्ट में प्रॉब्लम थी और लॉकडाउन के कारण काफी दिक्कत भी हो रही थी। उन्‍हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था।
        नदीम ने की थी जल्‍द स्‍वस्‍थ होने की कामना
उनके साथी नदीम सैफी ने इंस्टाग्राम प्रशंसकों से उनके लिए प्रार्थना करने का अनुरोध किया था। उन्होंने कहा था, "मैं हाथ जोड़कर अपने सभी दोस्तों और प्रशंसकों से अनुरोध कर रहा हूं कि वे अपने साथी श्रवण की शीघ्र स्वस्थ होने के लिए प्रार्थना करें, जो इस समय मुंबई के एक अस्पताल में गंभीर स्थिति में हैं।"

नदीम-श्रवण की जोड़ी का 1990 के दशक में म्यूजिक वर्ल्ड में खूब दबदबा था। फिल्म आशिकी में उनके रोमांटिक गानों की धुन बेहद लोकप्रिय हुईं थी। दोनों ने मिलकर साजन, साथी, दीवाना, फूल और कांटे, राजा, धड़कन, दिलवाले, राज, राजा हिंदुस्तानी, दिल है कि मानता नहीं, जैसी फिल्मों में काम किया, जिसके गाने खूब पॉपुलर हुए। पहली बार इस जोड़ी ने 1979 में भोजपुरी फिल्म 'दंगल' में अपना संगीत दिया था। लेकिन नदीम-श्रवण को पहचान फिल्म 'आशिकी' से मिली थी। 

सिनेमा जगत में शोक की लहर
श्रवण कुमार के निधन से सिनेमा जगत में शोक की लहर दौड़ गई। सभी सितारे उनके जल्‍द स्‍वस्‍थ होने की कामना कर रहे थे लेकिन अचानक उनके जाने की खबर मिली तो सब स्‍तब्‍ध रह गए हैं। कई सितारों ने उनके न‍िधन पर सोशल मीडिया पर शोक व्‍यक्‍त किया है।
Reactions