Fatehgarh: कोतवाल को भाजपाइयों को आचार संहिता का पालन कराने की सीख देना महंगा पड़ गया

अब्दुल मुईद खान, फर्रुखाबाद, Nit. : फतेहगढ़ कोतवाल जयप्रकाश पाल को भाजपाइयों को आचार संहिता का पालन कराने की सीख देना महंगा पड़ गया। दुर्गा नरायन डिग्री कालेज में कोतवाल से भाजपाई भिड़ गए। सत्ता के मद में चूर भाजपा कार्यकर्ताआं ने कोतवाल को आड़े हाथ लेकर उनके साथ धक्का मुक्की कर दी। यही नहीं एक भाजपा नेता ने परिसर से धक्का देकर बाहर कर दिया। कोतवाल इस पूरे घटनाक्रम से सहम गए।

उन्होंने इस पूरे मामले की जानकारी पुलिस अधीक्षक को दी और सीओ सिटी को फोन कर मौके पर बुलवा लिया। डीएन डिग्री कालेज में भाजपा के जिला पंचायत सदस्य पद के सभी प्रत्याशियों को नामांकन के लिए बुलवाया गया था। यहीं से समूह के रूप में सभी प्रत्याशियों को कलेक्ट्रेट स्थित नामांकन कक्ष तक जाना था। जिले के तीसो वार्डो के भाजपा के सभी प्रत्याशी पार्टी के झंडा बैनर से लगी गाड़ियों के साथ डीएन कालेज में इकट्ठा हो रहे थे। इस बीच यहां पर सुरक्षा व्यवस्था को देखने पहुंचे फतेहगढ़ कोतवाल जयप्रकाश पाल ने कई गाड़ियों के झंडे उतरवा दिए। इसमें बसपा और सपा की गाड़ियां भी शामिल थीं। गेट के पास ही उन्हें एक गाड़ी भाजपा के झंडा लगी कालेज के अंदर प्रवेश करते दिखाई पड़ी। जब उन्होंने गेट पर गाड़ी को रोका तो चालक ने तेजी से गाड़ी को आगे बढ़ा दिया। इस पर केातवाल लंबे कदमों से गाड़ी के पीछे पहुंचे और आचार संहिता का बोध कराते हुए झंडा उतरवाने के लिए कहा। कोतवाल ने गाड़ी की जब फोटो खींची तो ऐसे में यहां पर जिलाध्यक्ष के साथ मौजूद मीडिया प्रभारी शिवांग रस्तोगी, कोतवाल पर बिफर पडे़। कोतवाल बराबर आग्रह कर रहे थे इसके बाद भी शिवांग तैश में आकर कोतवाल से उलझ रहे थे। यहां तक कि उन्हें सपा का एजेंट तक बता दिया गया। इस बीच यहां पर कई अन्य भाजपा नेता भी इकट्ठे हो गए। जब शिवांग का पारा और अधिक गर्म हुआ तो अन्य कार्यकर्ता भी गुस्से में आ गए और उन्होंने भी कोतवाल को भला बुरा कहा। इस बीच कोतवाल ने फिर से आचार संहिता का हवाला देकर भाजपाइयों से अनुरोध किया। इस पर आग बबूला मीडिया प्रभारी ने कोतवाल को धक्का दे दिया। भाजपाइयों के रुख को देखकर कोतवाल भी असहाय हो गए। कार्यकर्ताओं ने उन्हें बाहर जाने की हिदायत तक दे डाली। इस बीच कोतवाल सीओ सिटी को पूरे मामले की जानकारी दी। कुछ ही देर बाद सीओ सिटी भी मौके पर आ गए और पूरा मामला समझा। फोन पर ही एसपी को सूचना दी गई। एसपी अशोक कुमार मीणा ने बताया कि कोतवाल के साथ जो विवाद हुआ है उसकी जानकारी मिली है। इसकी जांच कराएंगे।
Reactions