Farrukhabad police: दरोगा व सिपाही ने अधिवक्ता के साथ अभद्रता कर की धक्का-मुक्की, बार एसोसिएशन अनुशासन समिति ने एसपी को लिखा पत्र

फर्रुखाबाद, N.I.T. : एक मामलें में पैरवी करनें गये अधिवक्ता के साथ सादा बर्दी में सरकारी पिस्टल लगाये सिपाही नें अभद्रता कर धक्का-मुक्की कर दी। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमे खाकी की हनक में सिपाही अधिवक्ता से कह रहा है तुम्हारे जैसे जानें कितने वकील आये और चले गये। मामले में सिपाही के खिलाफ बार एसोसिएशन आ गयी है और कार्यवाही के लिए एसपी को पत्र लिखा है। 

दरसल अधिवक्ता सौरभ कुमार गंगवार नें जिला बार एसोसिएशन अनुशासन समिति के सदस्य दीपक द्विवेदी को पत्र देकर अवगत कराया कि वह एसओ से मिलनें थाना मऊदरवाजा गये थे। तभी परिसर में ही एक सिपाही सादा कपड़ो में पिस्टल लगाकर खड़ा था। वह आकर अभद्र भाषा का प्रयोग करनें लगा। वह बोले वकील साहब मुझे तुम्हारी ककी तलाश थी। इसके बाद वह अभद्रता पर उतारू हो गया। धमकी दी कि मै अपनी पत्नी की हत्या करके जेल काट चुका हूँ लिहाजा मुझे जेल का कोई भय नही। मैंने अपनी पत्नी के मुकदमें में बहुत खर्च किया। इस लिए सभी पैसा थाने से बसूल करना है। थानें में बैठे कुछ लोगों नें इसका वीडियो बनाकर  वायरल कर दिया। पीड़ित वकील का पत्र मिलने के बाद बार अनुशासन समिति के सदस्य डॉ० दीपक द्विवेदी, शिव प्रताप चीनू नें पुलिस अधीक्षक को सिपाही के खिलाफ कार्यवाही को पत्र लिखा है। 

दारोगा के खिलाफ भी एसपी से शिकायत:-
बार एसोसिएशन के सदस्य डॉ० दीपक द्विवेदी और शिव प्रताप चीनू नें एक और पत्र एसपी को लिखा। दरअसल अधिवक्ता शशिकांत अग्निहोत्री नें अनुशासन समिति के सदस्यों को दिये गये पत्र में कहा है कि कोर्ट में चल रहे मुकदमें में समझौते का दबाब बनाने के लिए आरोपी आये दिन परेशान करते है। अनिल कुमार पुत्र बहादुर नें एक झूठा मुकदमा भी लिखा दिया। इसके बाद अबैध धन देकर अमृतपुर तैनात दारोगा बलवीर सिंह को भी अपने साथ मिला लिया। 28 जुलाई को सुबह 11 बजे दारोगा बलवीर सिंह व सिपाही अनवर जमाल आदि आये और गाली-गलौज कर अभद्रता की और थाने चलनें को कहा। इस सम्बन्ध में जब एसपी को फोन किया तो दारोगा और भडक गया। दारोगा नें एक फर्जी मुकदमा दर्ज करा दिया। इस सम्बन्ध में भी बार एसोसिएशन अनुशासन समिति के सदस्यों के द्वारा दारोगा के खिलाफ भी एसपी से कार्यवाही को पत्र भेजा है।
Reactions