Kaimganj nagar palika: अधिशासी अधिकारी को कार्यमुक्त करने एवं प्रधान लिपिक को पद से हटाने के साथ ही गंभीर भ्रष्टाचार के आरोप लगा सभासदों ने नगर पालिका अध्यक्ष को सौंपा शिकायती पत्र

कायमगंज/फर्रुखाबाद, N.I.T. : आज नगर पालिका परिषद कायमगंज की बोर्ड बैठक विरोध के चलते हंगामे की भेंट चढ़ गई। बुलाई गई बैठक में उपस्थित सभासद पूजा शुक्ला, सतपाल लोधी, आमिर खान प्रेमचंद्र, रूबी गिरी, मौजी लाल, विजय कुमार, मुकेश कुमार गंगवार, नरेश शर्मा, बेबी खान, रामप्रकाश, रेखा कौशल, मोहम्मद आसिफ, पूनम शाक्य, स्नेह कौशल, सहित 25 में से 18 सभासदों ने नगर पालिका अध्यक्ष सुनील कुमार चक को हस्ताक्षर युक्त दो शिकायती पत्र सौंपे। 

जिसमें कहा गया है कि गत माह की 17 तारीख को सभी सभासदों द्वारा अधिशासी अधिकारी सीमा तोमर की निंदनीय कार्य प्रणाली के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव पारित किया था। इस क्रम में आज 7 अगस्त को पालिका अधिनियम 1916 धारा 58 के तहत बोर्ड अधिशासी अधिकारी को कार्यमुक्त करता है। सभासदों ने अधिशासी अधिकारी को पालिका अधिनियम कि उक्त धारा के अंतर्गत तत्काल कार्यमुक्त करने की मांग की है। 
वहीं सभी सभासदों ने पालिका के प्रधान लिपिक रामभवन यादव को लेखाकार के पद से हटाने की मांग करते हुए आरोप लगाया है कि श्री यादव ने इस पद पर रहते हुए नगर पालिका परिषद को भ्रष्टाचार का अड्डा बना दिया है। प्रधान लिपिक यादव अन्य पटलों के बाबूओ के साथ मिलकर फर्जी बिल बनाकर लाखों रुपए का बंदरबांट कर रहे हैं। इसलिए हम समस्त सभासद गण प्रस्ताव के द्वारा यह अनुरोध करते हैं कि ऐसे भ्रष्ट लिपिक को पालिका एवं जनहित में अविलंब पदच्युत करके भ्रष्टाचार को रोकने में सहयोग करते हुए जांच कराएं। 

सभासदों ने पालिका अध्यक्ष को दिए गए शिकायती पत्र की प्रतियां, निंदा प्रस्ताव की छाया प्रति संलग्न करते हुए मंडलायुक्त तथा निदेशक निदेशालय उत्तर प्रदेश शासन को भी प्रेषित की है।

(रिपोर्टर अमान खान)
Reactions