Police Transfer: क्षेत्राधिकारी मोहम्मदाबाद सोहराब आलम का कायमगंज हुआ तबादला, कई पुलिसकर्मी इधर से उधर

फर्रुखाबाद, N.I.T. : पतौजा मामले में सीओ सोहराब आलम की भूमिका संदिग्ध पाए जाने पर उनको हटा दिया गया है। पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार मीणा ने सीओ सोहराब आलम की क्षेत्राधिकारी कायमगंज पद पर तैनाती की है। वही कायमगंज के सीईओ राजवीर सिंह गौर को मोहम्मदाबाद सर्किल का सीओ बनाया है। एसपी ने देर रात 13 पुलिस कर्मचारियों के तबादले किए हैं।

पुलिस लाइन के दीवान मन्नू कुमार को कोतवाली फतेहगढ़ का मालखाना मोहर्रिर बनाया गया। फतेहगढ़ के दीवान उदय वीर सिंह को हेड मोहर्रिर कम्पिल पद पर भेजा गया। पुलिस लाइन के दीवान प्रेमचंद की कोतवाली मोहम्मदाबाद में हेड मुहर्रिर पद पर तैनाती की गई। मोहम्दाबाद के हेड मोहर्रिर आदित्य कुमार को थाना मेरापुर भेजा गया। थाना कमालगंज के आरक्षी पवन कुमार को कोतवाली फतेहगढ़ में कांस्टेबल मुहर्रिर बनाया गया।

एसपी ने यातायात के आरक्षी आशीष नारायण को लाइन हाजिर कर दिया है। थाना मेरापुर के दीवान रविकांत को थाना जहानगंज, सिपाही सुभाष चंद्र को थाना शमसाबाद स्थानांतरित किया गया। कम्पिल थाने के सिपाही रामू यादव को कोतवाली मोहम्मदाबाद भेजा गया। जबकि मोहम्दाबाद के सिपाही दिव्यांशु को थाना कम्पिल स्थानांतरित किया गया। पुलिस लाइन के दीवान मोहम्मद इरफान की थाना मेरापुर में तैनाती की गई।

एसपी कार्यालय के वाचक आशीष कुमार को डीसीआरबी में भेजा गया। डीसीआरबी के आरक्षी प्रबल प्रताप सिंह की एसपी कार्यालय के बाचक पद पर तैनाती की गई। मालूम हो कि ग्राम पतौजा निवासी मान सिंह यादव को पूर्व ग्राम प्रधान मोहम्मद शमीम व उनके परिजनों ने काफी प्रताड़ित किया। इसी मामले में सीओ सोहराब आलम की भूमिका संदिग्ध पाई गई।

इस मामले के विवेचक राजेश कुमार चौबे ने भी माल खाने कारण काफी लापरवाही बरती। एसपी ने उन्हें बीते दिनो चौबे को लाइन हाजिर कर दिया था। चर्चा है कि राजनैतिक दबाव के कारण पक्षपात करने वाले सीओ को हटाया गया है। अब सीओ सोहराब आलम को कायमगंज क्षेत्र मिल गया है।
Reactions