Kaimganj: आकाशीय बिजली गिरने से किशोरी सहित बंदर की हुई दर्दनाक मौत

फर्रुखाबाद/कायमगंज, N.I.T. : रिमझिम बर्षा से जहां एक ओर काफी राहत मिली। वही घुमड़ते बादलों से आकाशीय विद्युत पात जानलेवा साबित हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार कोतवाली कायमगंज क्षेत्र के गांव भुड़िया कटरा रहमत खां निवासी सुप्रीम सिंह यादव की 16 वर्षीय बेटी शिवानी की विद्युत पात की चपेट में आकर दुखद मौत हो गई। वही यही के पड़ोसी गांव अताईपुर जदीद निवासी शमशुल के घर के सामने काफी पुराना एक इमली का विशालकाय पेड़ खड़ा है। पेड़ के ऊपर बंदर बैठा था। अचानक गिरी आकाशीय बिजली की चपेट में आने से बंदर झुलसकर नीचे गिरा।उसकी मौत हो गई। उधर शिवानी की मृत्यु के बारे में परिजनों ने बताया कि आसमान से पानी की बूंदें गिर रही थी। आंगन में खडे़ नीम के पेड़ पर बच्चों ने अपने झूलने के लिए साड़ियों को बांधकर झूला डाल लिया था। शिवानी अपने कमरे से निकलकर आंगन के एक तरफ टीनशेड में बने किचन से अपने खाने के लिए चावल लेने गई थी। प्लेट में चावल लेकर शिवानी जैसे ही कमरे में आने के लिए नीम के नीचे झूले के पास पहुंची। समय लगभग दिन के 1:00 बजे तेज कड़क आवाज के साथ आकाशीय बिजली नीम के पेड़ की टहनियों को चीरती हुई गिरी। विद्युत पात होने की आवाज से काफी दूर तक कंपन जैसा महसूस हुआ। चपेट में आकर युवती शिवानी झूले की तरफ गिरी। किंतु झूला विद्युत घर्षण के कारण पहले से ही जल चुका था। जिसमें टकराकर युवती वहीं जमीन पर मृत अवस्था में गिर गई।  

घटना के बाद गांव तथा आसपास क्षेत्र में सनसनी युक्त दुखद: समाचार फैल गया। मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। जमा भीड़ में लगभग सभी की आंखें इस दुखद: घटना से नम दिखाई दे रही थी। 

सूचना पाकर हल्का लेखपाल उज्जवल गुप्ता तथा पुलिस हल्का इंचार्ज एसआई सुहेल खां मौके पर पहुंच गए। शिवानी की मां अनीतादेवी की लगभग 5 साल पहले ही मृत्यु हो चुकी है। मां की मृत्यु के बाद अनाथ हुए बच्चों में शिवानी अपनी तीन बहनों में सबसे छोटी थी। मृतका के दो भाई हैं। तीन बहनों और दो भाइयों वाले हंसते खेलते परिवार पर अचानक दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। सभी का रो-रोकर बुरा हाल हो रहा था।

रिपोर्टर अमान खान
Reactions