Kasganj update News: कासगंज पहुंचे सलमान खुर्शीद, कहा- हाईकोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक अल्ताफ के परिजन की करेंगे मदद, अखिलेश यादव ने भी साधा निशाना

हवालात में हुई युवक अल्ताफ की मौत के मामले में अब राजनीतिक पार्टियों ने सरकार व प्रशासन पर हमला शुरू कर दिया है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री सलमान खुर्शीद भी गुरुवार को कासगंज पहुंचे और पीड़ित परिवार से मिले. इस दौरान उन्होंने अल्ताफ के परिजन को हरसंभव मदद का आश्वासन दिया. साथ ही उन्होंने दोषी पुलिसकर्मियों पर मामला दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी की भी मांग की.

कासगंज, N.I.T. : पुलिस कस्टडी में हुई युवक की संदिग्‍ध हालात में मौत के मामले ने अब तूल पकड़ लिया है। समाजवादी पार्टी सुप्रीमो अखिलेश यादव के लगातार सरकार व प्रशासन पर हमले के बाद कांग्रेस ने भी मोर्चा संभाल लिया है। एक तरफ कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी कासगंज पहुंच रही हैं, वहीं उससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री सलमान खर्शीद यहां पहुंचे और हवालात में मृत मिले अल्ताफ के परिजनों से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने अल्ताफ के परिजनों को न्याय का भरोसा दिलवाया और अपनी व पार्टी की तरफ से हर संभव मदद का वादा भी किया। उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट जाना पड़े या सुप्रीम कोर्ट हम अल्ताफ के परिजन के साथ हैं और उनकी हर तरीके से मदद की जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ मामला दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी की भी मांग की। 
   अखिलेश ने भी साधा था निशाना:-
इससे पहले समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो अखिलेश यादव ने बुधवार को मामले पर ट्वीट करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में हर दिन ऐसी कितनी घटिया स्क्रिप्ट लिखी जाती हैं। इसके साथ ही उन्होंने बड़ा सवाल उठाया। उन्होंने मृत युवक की फोटो पोस्ट करने के साथ ही लिखा कि 5.6 फीट का अल्ताफ, नाड़े से बाथरूम में लगी दो फीट ऊंची टोंटी से लटक गया और मर गया। अल्ताफ ने इस नल से फंदा लगाकर जान दी, ऐसा एसपी का कहना है। इसके साथ ही अखिलेश यादव ने मामले में कहा कि कासगंज में पूछताछ के लिए लाए गए युवक की थाने में मौत बेहद संदेहास्पद है। लापरवाही के नाम पर कुछ पुलिसवालों का निलंबन सिर्फ दिखावटी कार्रवाई है। इस मामले में इंसाफ और भाजपा के राज में पुलिस में विश्वास की पुर्नस्‍थापना के लिए न्यायिक जांच होनी ही चाहिए। 
    पांच पुलिसकर्मी निलंबित:-
वहीं मामले में कोतवाली थाना प्रभारी सहित पांच पुलिसकर्मियों को लापरवाही बरतने के आरोप में निलंबित कर दिया गया है। एसपी रोहन प्रमोद बोत्रे ने कहा कि अपर पुलिस अधीक्षक को जांच देकर विभागीय कार्रवाई करने के निर्देश भी दिए गए हैं। जांच के बाद ही पता चल सकेगा कि आखिर आरोपी अल्ताफ ने क्यों और कैसे हवालात के बाथरूम में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।
Reactions