Nutrition tracker app: अब आंगनबाड़ी केंद्रों की होगी पोषण ट्रैकर एप से निगरानी

आधुनिकता की दौड़ में आंगनबाड़ी केंद्रों पर निगरानी रखने के लिए सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्ट फोन से लैस किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश में आंगनाबड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्ट फोन वितरण की शुरुआत हो गई है।

लखनऊ, N.I.T. : आधुनिकता की दौड़ में आंगनबाड़ी केंद्रों पर निगरानी रखने के लिए सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्ट फोन से लैस किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश में आंगनाबड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्ट फोन वितरण की शुरुआत हो गई है। इन फोन में पोषण ट्रैकर एप भी अपलोड किया गया है। यह पूरी तरह से केंद्रों पर नजर रखेगा। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के हर दिन के कार्यों की रिपोर्ट अफसरों को देगा। कुपोषण से लेकर पुष्टाहार तक का पूरा लेखा-जोखा होगा। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए यह बड़ी सौगात है। जल्द ही सभी को स्मार्ट फोन का वितरण कर दिया जाएगा।

ऐसे होगी निगरानी:-
अलीगढ़ के कार्यक्रम अधिकारी श्रेयस कुमार ने बताया कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को मिलने वाले स्मार्ट फोन में पोषण ट्रैकर एप भी अपलोड किया गया है। इस एप के आने से निगरानी की प्रक्रिया और सुगम होगा। इसमें केंद्र के खुलने के समय से लेकर केंद्र पर नामांकित बच्चे, उपस्थिति पंजीकरण के साथ ही बच्चों के मानिटरिंग की प्रक्रिया और आसान होगी। केंद्र की सारी जानकारी इस एप पर उपलब्ध होगी। कुपोष्ण से संबंधित मामलों को सूचीबद्ध करने के साथ ही सेविकाओं को एप पर किए गए कार्यों के हिसाब से ही मानदेय का भुगतान किया जाएगा। इसमें छह साल तक के बच्चों को मिलने वाली सभी सुविधाएं, गर्भवती और धात्री महिलाओं को मिलने वाले लाभ की निगरानी भी इस एप के माध्यम से की जाएगी।

सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं काे मिलेंगे फोन:-
उत्तर प्रदेश में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को स्मार्ट फोन मिले हैं। बाकी के अन्य कार्यकर्ताओं को भी जल्द फोन मिल जाएंगे। अब क्षेत्रीय प्रतिनिधियों की मौजूदगी में ब्लाक स्तर पर कार्यक्रम होंगे। इसमें सभी कार्यकर्ताओं को फोन दे दिए जाएंगे। जल्द ही यह वितरण कार्यक्रम पूर हो जाएगा। इसके बाद फिर विभाग मानटरिंग शुरू कर देगा। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए यह बड़ी सौगात है। जल्द ही सभी को स्मार्ट फोन का वितरण कर दिया जाएगा।
Reactions