Kaimganj: जेसीबी के सामने विरोध कर आ खड़ी हुई महिला

फर्रुखाबाद/कायमगंज, N.I.T. : नगर पालिका प्रशासन की लापरवाही एवं मिलीभगत के कारण नगर के मोहल्ला बगिया में भू-माफियाओं ने जिस तालाब को पाटकर अस्तित्व विहीन बना दिया है। उसी तालाब की खुदाई करने पहुंची जेसीबी मशीन के सामने यही की निवासी महिला विनीता मिश्रा अपने बेटे गौरव मिश्रा एवं परिवार की एक वृद्धा को साथ लेकर खड़ी हो गई। काफी देर तक विरोध करते हुए महिला जेसीबी के सामने धरना देकर बैठ गई। 

उसका कहना है कि इसी तालाब के पास या सम्मिलित में उसकी निजी जमीन है। पहले उसे चिन्हित कर अलग किया जाए। तभी वह जेसीबी मशीन चलने देंगे। 
इस पर वहां मौजूद अधिशासी अधिकारी सीमा तोमर तथा नायब तहसीलदार ने कहा कि यदि आप की जमीन है तो आप इसके अधिकृत एवं मान्य अभिलेख दिखाएं। जिससे यह ज्ञात हो सके कि आपका भूखंड है भी अथवा नहीं। यदि है तो कहां पर है। अधिकारियों का कहना है कि वे जिस स्थान पर जेसीबी चलवा रहे हैं। वह स्थान 22 डिसमिल रकवे का तालाब बाला है। लेकिन विरोध कर रहे गौरव मिश्रा तथा उनकी मां इस बात पर सहमत नहीं हुए। उन्होंने मौजूद अधिकारियों को चेतावनी भरे लहजे में धमकी देते हुए कहा कि यदि उनकी बात नहीं मानी गई। तो वह इसी स्थान पर आग लगाकर आत्मदाह कर लेंगे। इस पर अनहोनी की आशंका भांपकर अधिकारियों ने मौके पर पुलिस बुलाई। फिलहाल विरोध जारी था। लेकिन अतिक्रमण हटाने के लिए जेसीबी मशीन भी चल रही थी।

रिपोर्टर अमान खान
Reactions