Rajasthan Weekend Lockdown: कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए राजस्थान में 31 घंटों तक लगा संपूर्ण लॉकडाउन

राजस्थान, N.I.T. : राजस्थान में कोरोना के बढ़ते मामलों को सार्थक ढंग से रोकने के लिए राज्य सरकार ने नई कोरोना गाइडलाइन जारी की है। वहीं शनिवार रात 11 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक सम्पूर्ण लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है। 

पूरे देश में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। राजस्थान भी कोरोना की मार से अछूता नहीं है। शुक्रवार को पूरे राजस्थान में कोरोना के 10 हजार 3 सौ 7 मामले दर्ज किये गए, जबकि कोरोना संक्रमण से तीन लोगों की मौत हो गई। बढ़ते मामलों पर काबू पाने और कोरोना की चैन तोड़ने के लिए राज्य सरकार ने कोरोना की नई गाइडलाइन जारी की है। नई गाइडलाइन के साथ ही पूरे प्रदेश में राज्य सरकार ने शनिवार रात 11 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक संपूर्ण लॉकडाउन लगाने का आदेश दिया है। वहीं जोधपुर पुलिस और प्रशासन ने पूर्ण लॉकडाउन की सारी तैयारियां पूरी कर ली हैं। 

संपूर्ण लॉकडउन के दौरान जोधपुर पुलिस कमिश्नर जोस मोहन ने तैयारियों को लेकर मीडिया को यह बताया:-
मीडिया से बात करते हुए जोधपुर पुलिस कमिश्नर जोस मोहन ने कोरोना चैन को तोड़ने के लिए राज्य सरकार के जरिये संपूर्ण लॉकडाउन लगाने और उसकी तैयारियों को लेकर बात की। 

पुलिस कमिश्नर जोस मोहन ने कहा कि संपूर्ण लॉक डाउन के लिए जरुरी सारी तैयारियां पूरी कर ली गई है। उन्होंने तैयारियों को लेकर आगे बताया कि शहर के सभी थानों पर नाके लगाए जाएंगे। उन्होंनें नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि, यह लॉकडाउन उनकी सुरक्षा के लिए लगाया जा रहा है। उन्होनें लोगों से कहा कि जरुरी है तभी आप घरों से बहार निकलें, अनावश्यक या गैर जरुरी तरह से बिना काम के कोई बाहर नहीं निकले। अनावश्यक तरह से बाहर निकलने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

उन्होंने लॉकडाउन को लेकर लोगों से प्रशासन का सपोर्ट करने का आग्रह किया। क्या-क्या खुली रहेंगी? इस संबंद में पूछने पर उन्होंने बताया कि दैनिक आवश्यकताओं और सेवाओं को पूरा करने वाले जैसे सब्जी की दुकान, मेडिकल स्टोर, दूध व किराना के सामान के लिए छूट दी गई है। वहीं उन्होंने बाहर से  जोधपुर में आने वाले लोगों जैसे वह लोग जो ट्रेन, बस और हवाई यात्रा करके आते हैं, ऐसे यात्रियों को छूट दी जाएगी। 
महामारी अधिनियम के तहत इतने लोगों पर लगाया गया है जुर्माना:-
1 जनवरी 2022 से 14 जनवरी 2022 तक बिना मास्क के और सार्वजनिक जगहों पर थूकने वालों करीब दो हजार लोगों के चालान काटे गए हैं। वहीं इस संबंध में 100 से अधिक लोगों पर महामारी अधिनियम के तहत मामले दर्ज किए गया है। जोधपुर पुलिस कमिश्नर जोश मोहन ने इस संबंध में बताया कि यह मामले ऐसे लोगों के खिलाफ दर्ज किए गए हैं जो कि लापरवाही बरत रहे हैं और अपनी जान के साथ दूसरों के सुरक्षा से खिलवाड़ कर रहे हैं। जबकि इनमें से कुछ लोगों पर मास्क न लगाने के कारण, उनके अड़ियल रवैये के कारण मामला दर्ज किया गया है।
Reactions