UP Election 2022: सपा सुप्रीमों ने कायमगंज विधानसभा से सर्वेश अंबेडकर को टिकट देने की घोषणा की- सूत्र

फर्रुखाबाद, N.I.T. : विधानसभा चुनाव के उथल-पुथल के बीच सपा सुप्रीमों ने कायमगंज विधानसभा से सर्वेश अंबेडकर पर भरोसा जताया है जिससे कायमगंज की राजनीति में सरगर्मी का पारा तेजी से चढ़ा हुआ है।

कायमगंज सुरक्षित सीट से सर्वेश अंबेडकर को टिकट दिए जाने से समाजवादी पार्टी के नेताओं में जबरदस्त रोष ब्याप्त हो गया है। टिकट के लिए सपा नेता एवं पूर्व विधायक अजीत कठेरिया, रामविलास माथुर, करन माथुर, संतोष दिवाकर, शशि दिवाकर, रामशरन कठेरिया, कन्हैयालाल कोरी एवं डॉ सीपी निर्मल ने आवेदन किया था। सपा जिलाध्यक्ष नदीम फारुकी ने इन्हीं नेताओं के नाम पैनल में भेजे थे।

आपको बताते चले कि इससे पहले 2017 में सपा ने कायमगंज से सुरभि गंगवार को अपना प्रत्याशी बनाया था जिसमें उन्हें अपने प्रतिद्वंदी भाजपा प्रत्याशी अमर खटिक के सामने करारी हार का सामना करना पड़ा था जिसके बाद सपा सुप्रीमों अखिलेश यादव ने हार को जीत में बदलने के इस 2022 विधानसभा चुनावी रण में सर्वेश अंबेडकर पर भरोसा जताते हुए अपना प्रत्याशी बनाया है। हालांकि यह जानकारी सूत्रों से मिली है इसकी कोई अधिकारिक घोषणां नहीं हुई है।

लखनऊ निवासी सर्वेश अंबेडकर को बीती रात प्रत्याशी बनाए जाने की जानकारी मिलते ही उम्मीदवार नेताओं में जबरदस्त रोष है। जिन्होंने सर्वेश अंबेडकर को बाहरी बताकर विरोध करना शुरू कर दिया है सपा नेताओं ने जिलाध्यक्ष एवं पार्टी के मुखिया के पास यह खबर भेजी है कि क्षेत्रीय नेताओं में ही किसी को प्रत्याशित घोषित किया जाए।

जिसको हम लोग चुनाव जिताने का प्रयास करेंगे यदि सर्वेश अंबेडकर को नहीं हटाया गया तो उनका जमकर विरोध किया जाएगा। मालूम हो कि सपा मुखिया अखिलेश यादव ने विद्रोह होने के कारण ही रात में चुपचाप सर्वेश अंबेडकर को प्रत्याशी को घोषित किया है। चर्चा है कि इसी तरह सदर विधानसभा क्षेत्र की टिकट मनोज अग्रवाल को भी चुपचाप दे दी गई है मनोज अग्रवाल के समर्थक इस बात का प्रचार करने लगे है।

जिस दिन मनोज अग्रवाल की टिकट सार्वजनिक की जाएगी उसी समय वहां के भी उम्मीदवार मनोज अग्रवाल का डटकर विरोध करेंगे। मालूम हो कि अभी तक मनोज अग्रवाल की समाजवादी पार्टी की सदस्यता की जानकारी भी उजागर नहीं हुई है।

संवाददाता अब्दुल मुईद खान
Reactions