UP election analysis 2022: यूपी चुनाव का विश्लेषण - पार्ट 1, जाटव 34 पर्सेंट बीजेपी के साथ गया

नई दिल्ली, Nit : 
पहला चरण- 58 सीट
बीजेपी 46 (7 का नुकसान)
सपा 12

दूसरा चरण - 55 सीटें
बीजपी 30 (8 नुकसान)
सपा 25 (10 फायदा)

तीसरा चरण- 59 सीटें
बीजेपी 44 (5 का नुकसान)
सपा 15 (6 का फायदा)

चौथा चरण- 59 सीटें
बीजेपी 55 (5 का फायदा)
सपा  4

पांचवा चरण- 59 सीटें
बीजेपी  35 (16 का नुकसान)
सपा 21 (16 का फायदा)
राजा भैया की पार्टी को 2 सीट

छठा चरण- 57 सीटें
बीजेपी 46 (1 का फायदा)
सपा 11 

सातवां चरण -54 सीटें 
बीजेपी 27 (9 का नुकसान)
सपा 27 (16 का फायदा)

- चुनाव के पहले बीजेपी छोड़ने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य 25 हजार वोट से फाजिल नगर से चुनाव हारे

- चुनाव के पहले बीजेपी छोड़ने वाले धर्म सिंह सैनी नकुड़ से 315 वोट से हारे

- लखीमपुर, गोरखपुर, देवरिया, गोंडा, एटा, हरदोई, कुशीनगर, वाराणसी, शाहजहांपुर, मथुरा, कन्नौज, गौतमबुद्ध नगर, फर्रुखाबाद, कानपुर देहात, अलीगढ़, हमीरपुर, आगरा, महोबा, पीलीभीत, उन्नाव, सोनभद्र, मीरजापुर, संतकबीर नगर में बीजेपी ने क्लीन स्वीप किया... यानी यहां बीजेपी ने जिले की सारी सीटें जीत लीं

- साहिबाबाद से 2 लाख 14 हजार 835 वोट से बीजेपी के सुनील शर्मा जीते हैं... ये यूपी की सबसे बड़ी जीत है 

- एक लाख से ऊपर के अंतर से 8 विधायक जीते... सभी बीजेपी के रहे

- गोरखपुर की सारी सीटें बीजेपी ने पहली बार जीती 

- 32 प्रतिशत वोट समाजवादी पार्टी को मिले हैं पिछली बार से 10 प्रतिशत वोट ज्यादा मिले हैं

- साल 2017 में कांग्रेस को 6.25 प्रतिशत वोट मिला था... लेकिन साल 2022 में कांग्रेस को 2.35 पर्सेंट वोट मिला है... ये अब तक कांग्रेस का सबसे खराब प्रदर्श है 

- जहां मोदी गए वहां 80 पर्सेंट बीजेपी जीत गई

- सबसे ज्यादा बैलेट वोट समाजवादी पार्टी को मिला... यानी सरकारी कर्मचारियों ने पेंशन के मुद्दे पर समाजवादी पार्टी को वोट दिया 

- चाणक्य पोल एजेंसी के मुताबिक मायावती का कोर वोटर जाटव 34 पर्सेंट बीजेपी के साथ गया और 10 पर्सेंट सपा के साथ गया और 47 पर्सेंट जाटव बसपा को वोट दिया... ये अनुमान है । 

- केशव प्रसाद मौर्य अपनी सिराथू सीट भी हार गए और उनके गृहनगर कौशांबी में भी चायल और मंझनपुर सीट बीजेपी हार गई

-केशव प्रसाद मौर्य समेत बीजेपी के 11 मंत्री चुनाव हार गए

- कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू भी हार गए... वो ब्राह्मणों की जगह जगह आलोचना करने के लिए कुख्यात थे 

- अपना दल को 12 सीटें मिलीं... तीन सीटें बढ गईं यानी कुर्मी भी बीजेपी के साथ गया है 

- इस बार रिकॉर्ड सबसे ज्यादा 48 महिलाएं यूपी विधानसभा में आई हैं इनमें से 31 बीजपी से हैं

Reactions