Turkipur murder: चाचा ने भतीजी को मौत के घाट उतार हुआ फरार

फर्रुखाबाद/मऊजरवाजा, N.I.T. : कहासुनी के दौरान युवक ने तमंचे से गोली मारकर भतीजी गुलअफसां की हत्या कर दी। गुलअफसां थाना मऊदरवाजा के ग्राम तुर्कीपुर निवासी मोहम्मद इरफान की 22 वर्षीय पुत्री थी। इरफान आज सुबह गांव में ही आम बेच रहा था तभी ग्रामीणों ने उसे सूचना दी कि तुम्हारी बेटी को गोली मार दी गई है। इरफान तुरंत ही घर पहुंचा और घायल बेटी को लेकर लोहिया अस्पताल गया। जहाँ उसे मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर शव पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। 

थाना मऊदरवाजा क्षेत्र के ग्राम तुर्कीपुर निवासी 22 वर्षीय गुलअफसां पुत्री मोहम्मद इरफान की उसके ही सगे चाचा नें सीने में गोली मारकर घायल कर दिया। बेटी के गोली लगनें की खबर मिलते ही इरफान मौके पर आ गया और घायल पुत्री को लेकर लोहिया अस्पताल पंहुचा। जहाँ उसे चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया गया। जिसके बाद परिजनों में कोहराम मच गया। मृतका गुलअफसां के पिता इरफान नें पुलिस को तहरीर दी। घटना को अंजाम देनें के बाद आरोपी चाचा मुस्तकीम उर्फ गुड्डू मौके से फरार हो गया। 
दरअसल परिजनों की मानें तो मृतका गुलअफसां अपनी मर्जी से शादी करनें का पिता पर दबाब डाल रही थी। जिसका उसका चाचा गुड्डू विरोध कर रहा था। इसी बात को लेकर दोनों में विवाद चल रहा था। शनिवार को सुबह गुलअफसां व उसके आरोपी चाचा में कुछ विवाद हो गया। जिस पर गुड्डू नें अपनी भतीजी गुलअफसां को गोली से उड़ा दिया। मृतका की माँ शाहनाज का रो-रो कर बुरा हाल हो गया। घटना की सूचना पर अपर पुलिस अधीक्षक अजय प्रताप, सीओ सिटी प्रदीप कुमार, आमोद कुमार आदि मौके पर पंहुचे और जांच पड़ताल की। अपर पुलिस अधीक्षक नें मीडिया को बताया की जाँच की जा रही है। मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपी की तलाश की जा रही है। 

प्रधान के भाई से तय हुआ था विवाह:-
मृतका गुलअफसां का विवाह ग्राम प्रधान दिलशाद के भाई शाहिद से तय हुआ था। जिसको लगभग दो साल हो गये थे। गुलअफसां के चाचा को यह रिश्ता मंजूर नही था। इसी कारण चाचा ने भतीजी को गोली मारकर घटना को अंजाम दिया।

रिपोर्टर आमिर खान
Reactions