Farrukhabad central jail: सेन्ट्रल जेल में कैदियों के हुनर को बढ़ावा देने की जरुरत : सामाजिक कार्यकर्त्ता मारिया आलम

फर्रुखाबाद, N.I.T : सामाजिक कार्यकर्ता व पूर्व विधायक इजहार आलम खां (कायमगंज) की बेटी मारिया आलम ने सोमवार को सेंट्रल जेल फतेहगढ़ पहुंची और वहां की व्यवस्थाओं से रूबरू हुईं। दरअसल मारिया पिछले कई वर्षों से जेल में बंद कैदियों के लिए कार्य कर रहीं हैं। वह कैदियों को प्रशिक्षण देकर रोजगार के अवसर और जेल से बाहर आने के बाद कुशल और आत्मनिर्भर बनाने का काम करती हैं। वह सामाजिक संस्था डब्लूआईसीसीआई के जेल सुधर परिषद की प्रदेश अध्यक्ष भी हैं।

सोमवार को वह केन्द्रीय कारागार फतेहगढ़ पहुंची और वहां प्रभारी अधीक्षक बद्रीप्रसाद से मुलाकात कर कैदियों के लिए संचालित कार्यक्रमों की जानकारी ली साथ ही भोजन और स्वच्छता व्यवस्था का भी जायजा लिया। 

इस दौरान उन्होंने कैदियों से मुलाकात कर हालचाल लेते हुए भोजन व अन्य सुविधाओं को परखा जो बेहतर मिला। कैदी अपने पारिवारिक समस्याओं को लेकर चिंतित दिखाई दिए वहीं कुछ कैदियों को स्वास्थ्य सम्बंधित समस्याएं बताई जिसको लेकर प्रभारी अधीक्षक बद्रीप्रसाद को अवगत कराया। लघु उद्योग के अंतर्गत दरियां, कैनोपी आदि निर्माण कार्य देखा और बेहतर बनाने के लिए सामाजिक संस्थाओ को जोड़ने का काम करेंगी। मरिया का कहना है कि कैदियों के बाहर आने पर दोबारा नए जीवन की शुरुआत कर सकें। मारिया ने जेल प्रशासन द्वारा कैदियो के भोजन और लघु उद्योग कार्यक्रम की सराहना की है। इस दौरान शहाब खान, शीरेश पंडित, लज्जाराम से साथ रहे।

रिपोर्टर, अमान खान
Reactions