Pakistan Floods: पाकिस्तान में आई बाढ़ की तबाही से एक हजार से ज्यादा लोगों की मौत, कई सालों का टूटा रिकॉर्ड

पाकिस्तान, N.I.T. : पाकिस्तान के हालात इस समय बेहद ही ख़राब हैं। पाकिस्तान एक के बाद एक मुसीबतों का लगातार सामना कर रहा है। लंबे वक्त से वित्तीय संकट का सामना कर रहे पाकिस्तान में हाल ही में राजनीतिक संकट पैदा हो गया था, जिसके बाद अब प्राकृतिक संकट ने पाकिस्तान की हालत बेहद ही खराब कर रखी है। 

पाकिस्तान में पिछले 10 दिनों में 30 सालों के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। एक तिहाई पाकिस्तान बाढ़ की वजह से डूब गया है। बाढ़ से अभी तक 1 हज़ार से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। 10 लाख से ज़्यादा लोग बेघर हो गए हैं। 7 लाख से ज़्यादा जानवर (मवेशी) मारे गए हैं। बाढ़ से आई इस तबाही से पाकिस्तान की 3 हज़ार किलोमीटर की सड़कें पानी में बह गई हैं। जिसके कारण लोगों तक मदद पहुंचाना भी मुश्किल है। कुछ क्षेत्रों में हालात और भी ज़्यादा नाज़ुक हैं जिनमें सिंध, बलूचिस्तान, खैबर-पख्तूनख्वा और पंजाब राज्य शामिल है। पाकिस्तान सरकार ने देश में राष्ट्रीय आपातकाल घोषित कर दिया है। 

पाकिस्तान में इस बार ये बाढ़ ज़्यादा बारिश की वजह से आई है। लगातार हुई बारिश से पाकिस्तान में बाढ़ जैसे हालात पैदा हुए हैं। हमेशा पाकिस्तान में तीन महीने में 140 एमएम तक बारिश होती थी लेकिन इस बार यह कई गुना बढ़ गई। पाकिस्तान के मौसम विभाग की ओर से जारी किए गए ऑफिशियल डेटा के मुताबिक, अगस्त में 50.4 एमएम बारिश होने का अनुमान था, लेकिन एक महीने में 176.8 एमएम बारिश हो गई। वहीं, सिंध प्रांत में औसत बारिश से आठ गुना ज्यादा बारिश हो गई और बलूचिस्तान में पांच गुना बारिश हो गई। अब उम्मीद से ज़्यादा बारिश से वहां के हालात नाज़ुक हो गए हैं और पाकिस्तान अब एक नई मुसीबत का सामना कर रहा है। बता दें कि साल 2010 में भी पाकिस्तान में तेज़ बारिश की वजह से बाढ़ आई थी जिसमें 2000 हज़ार से ज़्यादा लोगों की मौत हो गई थी।

एजेंसी
Reactions